पंजाब व हरियाणा हाई कोर्ट ने पंजाब पुलिस को निर्देश दिया है कि वह संगरूर जिले के दंपती शमशेर सिंह और नवप्रीत कौर की सुरक्षा सुनिश्चित करे. 67 साल के शमशेर और 24 साल की नवप्रीत ने जनवरी में चंडीगढ़ के एक गुरुद्वारे में शादी की थी. पति और पत्नी के बीच 43 साल का अंतर है. इसी कारण यह शादी सोशल मीडिया की चर्चा का विषय बन गई थी. दोनों की तस्वीरें वायरल होने के बाद उन्होंने कोर्ट से सुरक्षा की मांग की है. उनका कहना है कि उन्हें अपने परिजनों व रिश्तेदारों से खतरा है.

हिंदुस्तान टाइम्स की खबर के मुताबिक दंपती के वकील मोहित सदाना ने कहा, ‘यह एक असामान्य विवाह है. दोनों परिवारों ने इस रिश्ते को स्वीकार नहीं किया, इसलिए दंपती ने अदालत का रुख किया है. उन्होंने कोर्ट से कहा है कि उनकी जान को परिवार वालों व रिश्तेदारों से खतरा है. चार फरवरी को कोर्ट ने संगरूर और बरनाला के एसएसएसपी अधिकारियों को उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है.’

हालांकि शमशेर सिंह और नवप्रीत कौर ने किसी तरह की टिप्पणी करने से इनकार कर दिया. उनकी तरफ से वकील सदाना ने कहा, ‘वे दोनों वयस्क हैं और उन्हें शादी करने का पूरा हक है. यह शादी वैध है क्योंकि दोनों का कोई जीवनसाथी नहीं है.’ उधर, संगरूर के एसएसपी संदीप गर्ग ने हाई कोर्ट के आदेश की पुष्टि की है. उन्होंने कहा कि कानून के मुताबिक दंपती को सुरक्षा दी जाएगी.