भारत में जनगणना हर दस वर्ष में मनाया जाने वाला एक ऐसा राष्ट्रीय उत्सव है, जिसमें देश के हर हिस्से में रहने वाले हर नागरिक को शामिल किया जाता है. देश में जनगणना की शुरुआत 1871 से हुई. इस लिहाज से 1951 में हुई जनगणना नौवीं जनगणना थी. लेकिन 1947 में बंटवारा होने और आजादी मिलने के बाद की वह पहली जनगणना थी. इस लिहाज से नौ फरवरी की तारीख काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि 1951 में आज ही के दिन स्वतंत्र भारत में पहली जनगणना के लिए सूची बनाने का काम शुरू किया गया था. इस जनगणना में बंटवारे के कारण बहुत से बदलाव आए. भारत का नक्शा बदलने के साथ ही इस जनगणना के बाद हिंदू-मुस्लिम आबादी का अनुपात भी बदल गया.

देश-दुनिया के इतिहास में नौ फरवरी की तारीख में दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1757 : रॉबर्ट क्लाइव ने अलीनगर संधि के जरिए कलकत्ता (अब कोलकाता) को सिराजुदौला से लेकर ब्रिटिश नियंत्रण वाले इलाके में शामिल कर लिया.

1824 : उन्नीसवीं सदी के प्रसिद्ध बांग्ला कवि और नाटककार माइकल मधुसूदन दत्ता ने ईसाई धर्म कुबूल किया.

1969 : देश के छह राज्यों में हुए विधानसभा चुनाव में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के नेतृत्व वाली कांग्रेस पार्टी ने बहुत खराब प्रदर्शन किया.

1971 : अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा द्वारा चांद पर भेजा गया अपोलो 14 अंतरिक्ष यान अपनी कार्यअविध पूरी कर धरती पर वापस लौटा.

1975 : रूसी अंतरिक्ष यान सोयूज 17 अंतरिक्ष में 29 दिन बिताने के बाद धरती पर लौटा.

1992 : पर्यटकों को सेनेगल से डकार लेकर जा रहा विमान दुर्घटनाग्रस्त. रात के अंधेरे में पायलट ने गंतव्य से कुछ पहले एक होटल के बगीचे में लगी कतारबद्ध लाइटों को विमान तल की हवाई पट्टी समझकर उस पर विमान उतार दिया. इस हादसे में विमान में सवार 59 लोगों में से 31 की मौत हो गई.

2006 : शिया मुसलमानों के पवित्र दिन ‘आशूरा’ पर पाकिस्तान के हांगू में फिदायीन हमले में 23 लोगों की मौत. बाद में शिया और सुन्नी मुसलमानों में दंगे भड़कने से मरने वालों की तादाद 31 तक पहुंची. अफगानिस्तान के हेरात में भी दंगों में छह लोग मरे और करीब 120 घायल हुए.

2008 : अपना पूरा जीवन कुष्ठ रोगियों के कल्याण पर लगाने वाले बाबा आमटे का निधन.

2010 : हैती में आए भीषण भूकंप में मरने वालों की संख्या दो लाख 30,000 होने का आधिकारिक ऐलान किया गया.