आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग करते हुए मुख्यमंत्री एन चंद्रबाबू नायडू ने दिल्ली में अपना एकदिवसीय अनशन शुरू कर दिया है. उन्होंने केंद्र से मांग की है कि वह राज्य को विशेष दर्जा दे और 2014 में इसके विभाजन से पहले किए सभी वादों को पूरा करे.

चंद्रबाबू नायडू के अनशन के दौरान विपक्ष के बड़े नेताओं का उनसे मिलने के लिए आना शुरू हो गया है. कुछ देर पहले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, नेशनल कॉन्फ्रेंस के प्रमुख फारूक अब्दुल्ला और एनसीपी के माजिद मेमन व प्रफुल्ल पटेल उनसे मिलने पहुंचे. पीटीआई के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी नायडू का समर्थन करने उनके पास पहुंच सकते हैं. आज के अनशन के बाद टीडीपी का एक प्रतिनिधिमंडल नायडू के नेतृत्व में मंगलवार को राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन सौंपेगा.

आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को लेकर टीडीपी मार्च, 2018 में एनडीए सरकार से अलग हो गई थी. तब से चंद्रबाबू नायडू भाजपा के खिलाफ विपक्ष को एकजुट करने में लगे हैं. आम चुनाव से पहले भाजपा विरोधी गठबंधन के लिए पिछले तीन महीने में वे कई बैठकें कर चुके हैं.