चीन ने उइगर समुदाय के साथ गलत व्यवहार किए जाने के तुर्की के आरोप का कड़ा जवाब दिया है. चीन ने तुर्की के आरोपों को झूठा और मनगढ़ंत करार दिया है. उसने तुर्की के उस दावे को भी खारिज किया जिसमें कहा गया था कि मुस्लिम अल्पसंख्यकों के एक प्रसिद्ध कवि की पुलिस हिरासत में मौत हो गई है.

पीटीआई के मुताबिक चीन ने रविवार को एक वीडियो जारी किया जिसमें खुद को हेयित बताने वाले व्यक्ति ने कहा कि वह जीवित है और स्वस्थ हैं.

इसके बाद सोमवार को चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘तुर्की के लगाए सभी आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं. हमें आशा है कि तुर्की के अधिकारी सही और गलत में भेद कर पाएंगे तथा अपनी गलती को सुधारेंगे.’ हुआ चुनयिंग ने तुर्की से अपने ‘झूठे आरोप’ वापस लेने को कहा है.

बीते शनिवार को तुर्की के विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर चीन में उइगर मुसलमानों को हिरासत में रखे जाने की आलोचना की थी. उसने दावा किया था कि एक गीत के लिए आठ साल की सजा काट रहे कवि अब्दुरेहिम हेयित की हिरासत में मौत हो गई है.