कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के परिवार को निशाना बनाते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि इस पार्टी में प्रधानमंत्री का पद ‘जन्मजात आरक्षित’ है. गुजरात के गोधरा में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उनका यह भी कहना था कि कांग्रेस में कोई भी कार्यकर्ता कभी शीर्ष पद पाने की नहीं सोच सकता. इस दौरान भाजपा अध्यक्ष ने तंज करते हुए कहा कि ‘भाई’ राहुल गांधी की शादी नहीं हुई है, इसलिए अब ‘बहन’ (प्रियंका गांधी) (राजनीतिक मैदान में) आई हैं.

पीटीआई के मुताबिक इस कार्यक्रम में अमित शाह ने यह दावा भी किया कि भाजपा में उनके जैसा एक आम बूथ कार्यकर्ता पार्टी का अध्यक्ष बन सकता है और एक ‘चायवाला’ (नरेंद्र मोदी) प्रधानमंत्री. इसके साथ ही सवालिया लहजे में उनका कहना था, ‘क्या कांग्रेस का कोई कार्यकर्ता प्रधानमंत्री बनने की सोच सकता है? उस पार्टी में यह सीट जन्मजात आरक्षित है.’ शाह ने आगे कहा कि भाजपा के किसी कार्यकर्ता को बड़े पदों पर पहुंचने के लिए किसी खास परिवार में जन्म लेने की आवश्यकता नहीं है.

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बीते महीने अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा को पार्टी का महासचिव बनाया है. इसके साथ ही उन्हें पूर्वी उत्तर प्रदेश का प्रभारी नियुक्त किया गया है. इसके बाद से भाजपा अध्यक्ष समेत पार्टी के अन्य नेताओं के भाषणों में उनका जिक्र होने लगा है और राहुल गांधी के साथ वे भी इनके निशाने पर आने लगी हैं.