उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव को लखनऊ एयरपोर्ट पर रोके जाने की खबर इस समय सोशल मीडिया पर बहस के केंद्र में है. अखिलेश यादव यहां से फ्लाइट लेकर इलाहाबाद जाना चाहते थे लेकिन राज्य सरकार ने उन्हें यह कहकर इसकी इजाजत नहीं दी कि इससे इलाहाबाद में कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ सकती है. फेसबुक और ट्विटर पर सपा समर्थकों के साथ-साथ अन्य लोगों ने इस फैसले के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार की आलोचना की है.

इसके साथ ही यहां उस घटना को जोड़कर कई प्रतिक्रियाएं आई हैं जब पश्चिम बंगाल की सरकार ने योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को वहां उतरने की इजाजत नहीं दी थी. इसी हवाले से अजीत यादव ने तंज करते हुए ट्वीट किया है, ‘ममता योगी को लैंड नहीं होने देतीं, योगी अखिलेश को टेक ऑफ़ नहीं करने देते... ये सब चुनाव हवा में क्यों लड़ रहे हैं? लड़ाई चुनावी या हवाई?’

इस खबर पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

सम्पत सरल | @Sampat_Saral

योगी को बंगाल जाने से रोकने पर लोकतंत्र की हार और अखिलेश को इलाहाबाद जाने से रोकने पर लोकतंत्र की जीत! ऐसे अलौकिक विचारों का राज क्या है? गोमूत्र या गोबर?

रवि भदौरिया‏ | @ravibhadoria

योगी जी ने कहा कि अखिलेश यादव को इसलिए रोका गया कि कहीं वहां कानून व्यवस्था की स्थिति न बिगड़ जाए... उसके बाद सपा के गुंडों ने गुंडई करके ये बताने की कोशिश की, कि ये बात सही नहीं है...

जीशान कैसर | @qaisar_zishan

ममता बनर्जी ने योगी आदित्यनाथ के हेलीकॉप्टर को बंगाल में उतरने से रोका था तब यही योगी जी ज्ञान बांट रहे थे कि यह लोकतंत्र की हत्या है. और आज यूपी के ही अखिलेश यादव को यूपी में इलाहाबाद जाने से जो रोका गया है. क्या यह लोकतंत्र का अपमान नहीं है?

वेदांक सिंह | @VedankSingh

2015 में ‘माहौल बिगड़ने’ का हवाला देकर अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ को इलाहाबाद विश्वविद्यालय जाने से रोका था, आज योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव को रोक दिया. अधिकारी वही..सरकार नई!

एक विलेन‏ | @ram_jaipur111

अखिलेश यादव के प्लेन पर ब्रेक लगा तो सपा के कार्यकर्ता उबल पड़े, कहा योगी सरकार डर गई है. जब योगी के हेलीकॉप्टर को ममता सरकार ने बंगाल में उतरने नहीं दिया था, तब विपक्ष के लिए ममता दीदी ठीक थीं. आज योगी गलत हैं! सब तरफ सुविधा की राजनीति का बोलबाला है.