अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप देश में आपातकाल लगा सकते हैं. इस बाबत एकाध दिन में ही डोनाल्ड ट्रंप कार्यकारी आदेश (एक्ज़ीक्यूटिव ऑर्डर) पर दस्तख़त कर सकते हैं. अमेरिकी मीडिया के हवाले से आई ख़बरों में यह जानकारी दी गई है.

ख़बरों की मानें तो आपातकाल के दौरान मिली शक्तियों के जरिए डोनाल्ड ट्रंप मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने के लिए फंड मंज़ूर कर सकते हैं. यही आपातकाल लगाए जाने का मुख्य कारण भी है. दरअसल अमेरिकी व्यवस्था के अनुसार सभी तरह के सरकारी ख़र्चों के लिए वित्तीय प्रस्तावों को मंज़ूरी देने का अधिकार संसद के पास सुरक्षित है. इसी बंदाेबस्त के कारण राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और संसद के बीच टकराव चल रहा है. इस टकराव का आधार है, मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने का मसला.

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अमेरिका में अवैध रूप से घुस आने वाले घुसपैठी प्रवासियों की समस्या पर लगाम लगाने के लिए मैक्सिको की सीमा पर दीवार बनाना चाहते हैं. इस बाबत उन्होंने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव के समय वादा किया था. लेकिन संसद दीवार बनाने के लिए पैसे मंज़ूर नहीं कर रही है. ख़ासकर संसद का निचला सदन- हाउस ऑफ रिप्रजेंटेटिव अड़ा हुआ है, जहां विपक्षी डेमोक्रेटिक पार्टी का बहुमत है. इसी टकराव की वज़ह से बीते दिसंबर-जनवरी अमेरिका में सबसे लंबी कामबंदी भी रह चुकी है.

हालांकि अब जैसा कि राष्ट्रपति कार्यालय की प्रवक्ता सराह सैंडर्स कहती हैं, ‘राष्ट्रपति जल्द ही सरकारी खर्चों से संबंधित संसद से पारित प्रस्ताव दस्तख़त करेंगे. साथ ही कुछ अन्य कार्यकारी आदेशों पर दस्तख़त कर सकते हैं. इनमें देश में आपातकाल लगाने का आदेश भी हो सकता है. राष्ट्रपति मैक्सिको सीमा पर दीवार बनाने का अपना वादा पूरा करेंगे. राष्ट्रीय सुरक्षा को देखते हुए ऐसा करना ज़रूरी है. मानवीय समस्या के निदान के लिए यह आवश्यक है. अपने महान देश को बचाने के लिए ये जरूरी है.’