ब्रिटेन में ब्रेक्जिट को लेकर पार्टियों से इस्तीफे का दौर शुरू हो गया है. विपक्षी लेबर पार्टी के बाद बुधवार को सत्तारूढ़ कंजरवेटिव पार्टी के भी तीन सांसदों ने इस्तीफ़ा दे दिया. इन सांसदों का कहना है कि ब्रेक्जिट जैसे मुद्दों पर प्रधानमंत्री टेरेसा मे के नेतृत्व में पार्टी दक्षिणपंथ की दिशा में बढ़ती जा रही है जिस वजह से वे खुद को पार्टी से अलग कर रहे हैं.

पीटीआई के मुताबिक इस्तीफा देने वाली सांसद अन्ना सोब्री, साराह वोलास्टोन और हैडी ऐलेन हैं. बुधवार को इन्होंने टेरेसा मे को अपने इस्तीफे की सूचना ऐसे वक्त में दी, जब वह ब्रेक्जिट पर रियायत पाने के लिए ब्रसेल्स रवाना होने वाली थीं. टेरेसा मे 29 मार्च की समय सीमा से पहले एक ऐसा ब्रेक्जिट मसौदा तैयार करने की कोशिश में हैं जिसे ब्रिटिश संसद से मंजूरी मिल सके.

अपने सांसदों के इस्तीफे के बाद ब्रिटिश प्रधानमंत्री ने कहा कि ऐसे समय में वह अपने सहकर्मियों के इस कदम से दुखी हैं, लेकिन उनकी सरकार सही रास्ते पर है.

खबरों के मुताबिक ये तीनों सांसद विपक्षी दल लेबर पार्टी से इस्तीफा देकर ‘इंडिपेंडेंट ग्रुप’ का गठन करने वाले सात अन्य सांसदों के साथ संसद में बैठेंगी. बीते सोमवार को लेबर पार्टी के इन सांसदों ने ब्रेक्जिट और यहूदियों सहित कई मुद्दों पर अपने नेता जेरेमी कॉर्बिन के रुख के विरोध में पार्टी छोड़ दी थी.