ऑस्ट्रेलिया ने इराक और सीरिया में इस्लामिक स्टेट के लिए लड़ने गए अपने नागरिकों के प्रवेश पर दो साल का प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है. आस्ट्रेलिया सरकार ने इसे लेकर संसद में एक विधेयक पेश किया है.

पीटीआई के मुताबिक गुरूवार को ऑस्ट्रेलिया के गृह मंत्री पीटर ड्यूटॅन ने संसद में इस विधेयक को पेश करते हुए कहा, ‘230 से अधिक आस्ट्रेलियाई नागरिक 2012 से इस्लामिक स्टेट के लिए लड़ने या उनको समर्थन देने के लिए सीरिया और इराक गए थे. लेकिन, अब आईएस की ताकत घटने के बाद, इनमें से कुछ आस्ट्रेलिया वापस लौटने का प्रयास कर रहे हैं.’

उन्होंने आगे कहा, ‘राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए यह बात महत्वपूर्ण है कि हम इराक या सीरिया में संघर्ष वाले हिस्सों में गए आस्ट्रेलियाई नागरिकों से जहां तक हो सके, दूर रहने के लिए कुछ करें क्योंकि ये लोग हमारे लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं.’

ड्यूटॅन के मुताबिक सरकार का यह विधेयक दूसरे देशों में आतंकवाद में शामिल रहे आस्ट्रेलियाई नागरिकों को वापस लौटने से कानूनी तौर पर दो साल के लिए रोकेगा. उन्होंने यह भी बताया कि इस कानून का उल्लंघन करने वाले को दो साल कैद की सजा हो सकती है.