अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने गुरुवार को एक बार फिर माइकल कोहेन की गवाही को सिरे से खारिज कर दिया. उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग उन के साथ अपनी शिखर वार्ता के बाद वियतनाम में एक संवाददाता सम्मेलन में ट्रंप ने कहा कि उनके पूर्व माइकल कोहेन सफ़ेद झूठ बोल रहे हैं.

पीटीआई के मुताबिक ट्रंप ने जोर देकर कहा कि कोहेन ने बुधवार को अपनी गवाही के दौरान कोई साक्ष्य नहीं दिये. कोहेन के पास ऐसे कोई सबूत नहीं हैं जिनसे यह साबित हो कि 2016 में अमेरिका में हुए चुनावों में ट्रंप के प्रचार अभियान में रूस भी शामिल था. उन्होंने कहा कि संसदीय समिति के समक्ष गवाही के दौरान यही बात सबसे ज्यादा मायने रखती है.

इससे पहले लंबे समय तक उनके वकील रहे कोहेन ने संसदीय समिति के समक्ष दी अपनी गवाही में यह कहते हुए सनसनी फैला दी थी कि ट्रंप एक नस्लवादी और धोखेबाज हैं. कोहेन ने सांसदों को बताया था कि मिली भगत को लेकर उन्हें कोई प्रत्यक्ष जानकारी नहीं है लेकिन उन्हें इसका अंदेशा है.