अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने शनिवार को आरोप लगाया कि भारत बहुत अधिक शुल्क लगाने वाला देश है. उन्होंने कहा कि वह पारस्परिक बराबर कर चाहते हैं.

ट्रंप ने कंजर्वेटिव पॉलिटिकल एक्शन कॉन्फ्रेंस (सीपीएसी) को संबोधित करते हुए इस बारे में हर्ले-डेविडसन मोटरसाइकिल का उदाहरण दिया. उन्होंने कहा, ‘जब हम भारत को मोटरसाइकिल भेजते हैं तो उस पर 100 प्रतिशत का शुल्क लगाया जाता है, लेकिन जब भारत हमें मोटरसाइकिल का निर्यात करता है तो हम कुछ भी शुल्क नहीं लगाते हैं.’ ट्रंप ने कहा कि इसलिए मैं परस्पर बराबर कर चाहता हूं, यह मिरर टैक्स (जवाबी शुल्क) होगा लेकिन परस्पर बराबर होगा.

हालांकि, ट्रंप ने यह भी कहा कि वह भारत को सिर्फ उदाहरण के तौर पर पेश कर रहे हैं ताकि बताया जा सके कि अन्य देश किस तरह से अमेरिकी उत्पादों पर शुल्क लगा रहे हैं और अब समय आ गया है कि अमेरिका भी परस्पर बराबर जवाबी शुल्क लगाए. ट्रंप ने कहा कि संसद में उनके इस रवैये का विरोध हो रहा है, इसलिए उनके समर्थकों को इस मुद्दे पर मुखर होना चाहिए.