बीते 26 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के खिलाफ भारत के हवाई हमले को लेकर पाकिस्तान में भारतीय वायुसेना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गयी है. पाकिस्तानी न्यूज़ एजेंसी ‘एक्सप्रेस न्यूज’ की खबर के अनुसार बालाकोट इलाके में 19 पेड़ों पर बम गिराने और पर्यावरण को नुकसान पहुंचाने के आरोप में पाकिस्तान वन विभाग ने भारतीय वायुसेना के अज्ञात पायलटों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की है.

खबर के अनुसार शुक्रवार को दर्ज की गई इस प्राथमिकी में कहा गया है कि भारतीय लड़ाकू विमानों ने पाकिस्तान के बालाकोट में हड़बड़ी में अपने बम गिराये जिसके कारण इस क्षेत्र में 19 पेड़ों को नुकसान पहुंचा है.

एक्सप्रेस न्यूज की खबर में आगे कहा गया है कि पाकिस्तान भारत पर पारिस्थितिकी आतंकवाद का आरोप लगाते हुए संयुक्त राष्ट्र में शिकायत दर्ज कराने की योजना बना रहा है.

पाकिस्तान के जलवायु परिवर्तन मंत्री मलिक अमीन असलम ने मीडिया से बातचीत में कहा कि भारतीय लड़ाकू विमानों ने हरित वन क्षेत्र पर बम गिराये थे जिसके कारण पर्यावरण को काफी नुकसान हुआ है. मंत्री के मुताबिक इसका आकलन करने के बाद संयुक्त राष्ट्र एवं अन्य मंचों पर इसकी शिकायत की जाएगी.