चुनाव आयोग ने रविवार को आम चुनाव-2019 की तारीखों का ऐलान कर दिया. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने बताया कि 17वीं लोकसभा चुनाव में मतदान 11 अप्रैल से 19 मई तक सात चरणों में किया जाएगा. नतीजे 23 मई को घोषित किए जाएंगे. चुनाव आयोग के मुताबिक इस चुनाव में मतदाताओं की संख्या 90 करोड़ होगी. वहीं, आयोग ने कम से कम 70 फीसदी मतदान का लक्ष्य निर्धारित किया है. दूसरी ओर, चुनावी तारीखों के ऐलान के बाद पूरे देश में चुनावी आचार संहिता लागू हो गई है.

ओडिशा : बीजद ने लोकसभा चुनाव में एक-तिहाई महिला उम्मीदवारों को उतारने का फैसला किया

ओडिशा में सत्तारूढ़ बीजू जनता दल (बीजद) ने अपने स्तर पर महिलाओं को लोकसभा चुनाव-2019 में 33 फीसदी कोटा देने का फैसला किया है. इसके तहत पार्टी की ओर से इस चुनावी दंगल में उतरने वाले उम्मीदवारों में एक-तिहाई महिलाएं होंगी. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक पार्टी के प्रमुख नवीन पटनायक ने इस फैसले का ऐलान किया. केंद्रपाड़ा में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि यह ऐतिहासिक कदम देश में महिला सशक्तिकरण की अगुवाई करेगा. हालांकि, उन्होंने इस फैसले को लोकसभा चुनाव के साथ होने वाले विधानसभा चुनाव में लागू नहीं किया है. भाजपा ने बीजद के इस फैसले का स्वागत करते हुए इसे वोट पाने की कोशिश करार दिया. वहीं, कांग्रेस ने इसे महिला मतदाताओं को प्रभावित करने का एक तरीका बताया है. ओडिशा में लोकसभा की कुल 21 सीटें हैं. इस लिहाज से बीजद की ओर से कम से कम सात महिलाओं को उम्मीदवार बनाया जाना तय हो गया है.

जावेद अख्तर ने प्रधानमंत्री से ‘गुजरात रेजिमेंट’ बनाने की मांग की

मशहूर लेखक और गीतकार जावेद अख्तर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भारतीय सेना में एक ‘गुजरात रेजिमेंट’ बनाने की मांग की है. द एशियन एज के मुताबिक मुंबई में आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने कहा, ‘हमारी सेना में बहुत सारे रेजिमेंट हैं जैसे; सिख, मराठा, राजपूत. लेकिन, हमने क्या कभी गुजरात रेजिमेंट सुना है?’ जावेद अख्तर ने आगे कहा, ‘जब हमारे प्रधानमंत्री को भारतीय सेना से बहुत प्यार और इस पर गर्व है तो मैं उनसे अपील करता हूं कि ‘गुजरात रेजिमेंट’ बनाएं ताकि इस क्षेत्र के स्वयंसेवक सेना में शामिल हो सकें. वहीं, अखबार ने रक्षा विशेषज्ञों के हवाले से कहा है कि भारतीय सेना में गोरखा, मराठा और अन्य रेजिमेंट ब्रिटिश शासन में ही गठित हुई थीं जिन्हें आजादी के बाद भी कायम रखा गया. इन रेजिमेंटों में जवानों की नियुक्ति धर्म, जाति और क्षेत्र पर आधारित होती है. विशेषज्ञों के मुताबिक इस प्रक्रिया का और विस्तार नहीं किया जा सकता. सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी एच दांडेकर ने बताया, ‘सरकारों ने इस तरह की नियुक्ति प्रक्रिया को खत्म करने की कोशिश की है लेकिन, इसमें उन्हें मदद और सफलता नहीं मिली.’

मध्य प्रदेश : ओबीसी आरक्षण 14 से बढ़ाकर 27 फीसदी, सामान्य आरक्षण पर कमेटी गठित

मध्य प्रदेश में अन्य पिछड़ा वर्ग (ओबीसी) आरक्षण का कोटा 14 फीसदी से बढ़ाकर 27 फीसदी कर दिया गया है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने इससे संबंधित अध्यादेश को मंजूरी दे दी है. राज्य के कानून मंत्री पीसी शर्मा ने बताया कि इस अध्यादेश को अधिसूचित कर लागू कर दिया गया है. वहीं, कमलनाथ सरकार ने अब तक सामान्य आरक्षण को लागू नहीं किया है. बताया जाता है कि इसके लिए सरकार ने एक कमेटी गठित की है. माना जा रहा है कि आम चुनाव से पहले ओबीसी कोटे में इस बढ़ोतरी के जरिए कांग्रेस पिछड़ा वर्ग पर अपनी पकड़ मजबूत करना चाहती है.

अमित शाह ने संघ से चुनाव में मदद की मांग की

भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक (आरएसएस) से लोकसभा चुनाव में मदद की मांग की है. द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक मध्य प्रदेश के ग्वालियर में आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने संघ के शीर्ष पदाधिकारियों से मुलाकात की. इस बारे में पूछे जाने पर संघ के सरकार्यवाह भैय्याजी जोशी ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा, ‘हमसे भी मांगा (मदद) है.’ वहीं, एक अन्य अधिकारी ने बताया कि अमित शाह ने संघ के साथ बैठक में बीते एक वर्ष के दौरान पूरे देश में पार्टी के विस्तार की जानकारी दी. हालांकि, मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता गंवाने पर उन्होंने कुछ नहीं कहा.

तमिलनाडु : अन्नाद्रमुक और डीएमडीके बीच चुनावी समझौता

अन्नाद्रमुक पार्टी ने विजयकांत की पार्टी डीएमडीके को तमिलनाडु के लिए 39 में से चार लोकसभा सीटें छोड़ी हैं. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक रविवार को दोनों दलों के नेताओं ने इस चुनावी समझौते पर हस्ताक्षर किए. इस मौके पर अन्नाद्रमुक नेता के पलानीसामी और पन्नीरसेल्वम के साथ विजयकांत और उनकी पत्नी प्रेमलता मौजूद थीं. इससे पहले अन्नाद्रमुक ने भाजपा के साथ भी गठबंधन किया था. इसके तहत भाजपा को पांच सीटें दी गई हैं. तमिलनाडु की सभी 39 सीटों पर 18 अप्रैल को मतदान होना है.