बहुजन समाज पार्टी की प्रमुख मायावती के पूर्व सचिव नेतराम के ठिकानाें पर मंगलवार को आयकर विभाग की टीमों ने छापे मारे. नेतराम पर लगभग 100 करोड़ रुपए की कर चोरी का संदेह है.

ख़बरों के मुताबिक नेतराम के लखनऊ और दिल्ली स्थित 12 ठिकानों पर छापामारी की गई है. आयकर विभाग के एक अधिकारी ने बताया, ‘छापे की कार्रवाई सुबह शुरू हुई है. यह देर शाम तक चलने की संभावना है.’ नेतराम पूर्व आईएएस (भारतीय प्रशासनिक सेवा) हैं. मायावती जब 2007 से 2012 बीच उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री थीं तब नेतराम उनके बेहद नज़दीकी हुआ करते थे. उस समय वे पूरे पांच साल मुख्यमंत्री के प्रमुख सचिव के पद पर कार्यरत थे.

अनुसूचित जाति से ताल्लुक़ रखने वाले नेतराम उत्तर प्रदेश में कृषि, आबकारी, गन्ना, खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति जैसे विभागों के प्रमुख सचिव रह चुके हैं. हालांकि जब समाजवादी पार्टी सत्ता में आई और 2012 में अखिलेश यादव मुख्यमंत्री बने तो नेतराम को कम महत्व के विभागों में भेज दिया गया. वे 2014 में प्रशासन एवं प्रबंधन अकादमी के महानिदेशक पद पर रहते हुए सेवानिवृत्त हुए थे.