अगस्ता वेस्टलैंड हेलीकॉप्टर सौदे के प्रमुख बिचौलिये और इस कथित घोटाले के आरोपित क्रिश्चियन मिशेल को आज दिल्ली के एक विशेष अदालत के सामने पेश किया गया. इस मौके पर उसने कोर्ट से कहा कि केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) के पूर्व विशेष निदेशक राकेश अस्थाना ने संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) के दुबई में उससे मुलाकात की थी. तब राकेश अस्थाना ने उसे धमकी देते हुए कहा था, ‘वह (राकेश अस्थाना) जेल में मेरा जीवन नरक बना देगा.’

क्रिश्चियन मिशेल ने आगे कहा, ‘आज वैसा ही हो रहा है. मुझे जिस जेल में रखा गया है उसके बराबर में कुख्यात अपराधी छोटा राजन को रखा गया है. मुझे समझ नहीं आता कि ऐसे अपराधियों के साथ मुझे क्यों रखा गया है. इसके अलावा मेरे आसपास की सेल में 16-17 कश्मीरी अलगाववादी नेता भी मौजूद हैं.’ इसके साथ ही क्रिश्चियन मिशेल ने जेल में उसे मानसिक तौर पर प्रताड़ित किए जाने की बात भी कही है.

मिशेल ने ये बातें विशेष जज अरविंद कुमार की अदालत से कहीं, जिन्होंने मंगलवार को ही प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) को उसके साथ पूछताछ करने की अनुमति दी थी. अरविंद कुमार ने अपने फैसले में यह भी कहा कि ईडी आरोपित के साथ बुधवार और गुरुवार को पूछताछ कर सकता है. पूछताछ के दौरान तिहाड़ जेल का भी एक अधिकारी मौजूद रहेगा. इसके साथ ही उन्होंने क्रिश्चियन मिशेल के वकील को भी सीमित समय के लिए उससे मुलाकात करने की अनुमति दी है.

क्रिश्चियन मिशेल को बीते साल दिसंबर में दुबई से प्रत्यर्पित कराया गया था. उसके भारत लाए जाने के बाद सीबीआई और ईडी ने उसे रिमांड में लेकर पूछताछ की थी. दोनों केंद्रीय एजेंसियों की तरफ से पूछताछ के बाद दिल्ली की एक अदालत ने उसे तिहाड़ जेल भेज दिया था. साथ ही इस दौरान उसे कड़ी सुरक्षा वाली सेल में रखने के निर्देश भी दिए थे.