मंगलवार को गुजरात के साबरमती में कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक हुई है और सोशल मीडिया पर इसकी अच्छी-खासी चर्चा रही. इसके बाद गांधीनगर में पार्टी की रैली हुई जहां कांग्रेस का राष्ट्रीय महासचिव बनने के बाद पहली बार प्रियंका गांधी ने भाषण दिया है. इसके चलते वे ट्विटर के ट्रेंडिंग टॉपिक में शामिल हुई हैं.

यहां प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार को बेरोजगारी से लेकर महिला सुरक्षा तक के कई मुद्दों पर घेरा और सोशल मीडिया में लोगों ने उनके भाषण के इन हिस्सों को शेयर किया है. कांग्रेस समर्थकों के साथ-साथ एक बड़े तबके ने यहां उनके इस भाषण का विश्लेषण भी किया है. अमिताभ श्रीवास्तव की फेसबुक पोस्ट है, ‘गुजरात में आज प्रियंका गांधी का भाषण राहुल गांधी के भाषण से बेहतर था. आम जनता और कांग्रेस कार्यकर्ता से प्रियंका गांधी बेहतर और असरदार तरीक़े से जुड़ते हैं, यह स्पष्ट देखा जा सकता है.’

प्रियंका गांधी के भाषण की एक लाइन यहां पर काफी चर्चा में है. यहां उन्होंने लोगों से जागरूक बनने की अपील करते हुए कहा है, ‘...जागरूक बनना ही सच्ची देशभक्ति है...’ इस पर करीम शेख ने तारीफ करते हुए प्रतिक्रिया दी है, ‘यह लाइन तो आदर्श वाक्य बनने वाली है...’ प्रियंका गांधी के भाषण पर सोशल मीडिया में आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

शकुनि मामा | ‏ @ShakuniUncle

जागरूकता देशभक्ति है, लेकिन ऐसी जागरूकता जहां भाजपा के साथ कांग्रेस की कारस्तानियां भी दिखें.

संतोष मिश्रा | @Santosh43800350

जागरूकता ही देशभक्ति है : प्रियंका गांधी
जागरूकता का ही परिणाम है कि कांग्रेस 44 पर आ गई है. इससे ज्यादा जागरूक हुई जनता तो कांग्रेस चार पर भी आ सकती है!

नरेंद्र नाथ मिश्रा | @iamnarendranath

‘जागरूकता से बड़ी कोई देशभक्ति नहीं…’ प्रियंका गांधी ने इस एक लाइन से कांग्रेस को बताया कि इन मुद्दों (भाजपा के) पर किस तरह काउंटर कर असल मुद्दे पर लौटा जा सकता है. हर आदमी जो अपना काम कर रहा है या देश के लोगों के लिए काम कर रहा है वह देशभक्ति है. देशभक्ति की सीमा नहीं होती. यह बॉर्डर से इतर भी होती है.

संजय चमोली |‏ @champ4561

गुजरात में प्रियंका गांधी बोलीं - भविष्य चुनने जा रहे हैं आप, जागरूक बनना सच्ची देशभक्ति. इस बयान से पता लगता है कि प्रियंका को भी राहुल पर भरोसा नहीं, वे भी चाहती हैं कि – फिर एक बार मोदी सरकार.