कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने पंजाब में आम आदमी पार्टी (आप) के साथ किसी चुनावी गठजोड़ से इनकार किया है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि उनकी पार्टी अकेले अपने दम पर लोकसभा का आगामी आम चुनाव लड़ेगी. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक अमरिंदर सिंह ने यह बात मंगलवार को पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हो सकता है आप के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने पंजाब में कांग्रेस के साथ गठजोड़ को लेकर कोई बयान दिया हो. लेकिन उन्हें इस बारे में कोई जानकारी नहीं है.

अमरिंदर सिंह ने आगे कहा, ‘आगामी चुनाव में कांग्रेस के नेता और कार्यकर्ता अपनी जीत के प्रति आश्वस्त हैं. यही वजह है कि पार्टी ने कार्यसमिति की बैठक के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गृह राज्य को चुना और गुजरात के गांधीनगर में बैठक की.’ इस मौके पर पंजाब में कांग्रेस के प्रत्याशियों के नामों को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘पंजाब में मतदान होने में अभी काफी समय है. इसलिए हम किसी जल्दबाजी में नहीं हैं.’ उन्होंने आगे कहा, ‘इस बारे में अगले हफ्ते दिल्ली में एक बैठक होने जा रही है.’

इसके साथ ही पंजाब के मुख्यमंत्री ने पूर्व प्रधानमंत्री डॉक्टर मनमोहन सिंह के अमृतसर संसदीय सीट से चुनाव लड़ने की अटकलों पर भी विराम लगाया. उन्होंने कहा, ‘डॉक्टर मनमोहन सिंह ने स्पष्ट किया है कि वे लोकसभा का चुनाव लड़ने के इच्छुक नहीं हैं.’ हालांकि इससे पहले कांग्रेस की पंजाब इकाई के प्रमुख सुनील जाखड़ ने पूर्व प्रधानमंत्री के अमृतसर सीट से चुनाव लड़ने की इच्छा जताए जाने का दावा किया था.

उधर, मंगलवार को ही शिरोमणि अकाली दल (एसएडी) ने अपने पहले प्रत्याशी का नाम घोषित किया. तरणतारण में एक रैली का संबोधित करते हुए एसएडी प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि पार्टी की महिला इकाई की अध्यक्ष बीबी जागीर कौर पंजाब की खडूर साहिब सीट से चुनाव लड़ेंगी. उनके मुताबिक पंजाब में उनकी पार्टी दस जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) तीन सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारेगी. एसएडी की तरफ से शेष नौ उम्मीदवारों के नाम भी जल्दी ही घोषित किए जाएंगे.