राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार ने कहा है कि भाजपा लोकसभा चुनाव में भले ही सबसे बड़े दल के रूप में उभर जाए, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरा कार्यकाल मिलने की संभावना नहीं है. उन्होंने मंगलवार को मुंबई में एक कार्यक्रम के दौरान संवाददाताओं से बातचीत में यह बात कही. पीटीआई के मुताबिक पवार ने कहा, ‘भाजपा संसदीय चुनावों में सबसे बड़ी पार्टी के रूप में सामने आ सकती है और (सरकार बनाने के लिए) उसे सहयोगी दलों की जरूरत होगी. इस परिदृश्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दूसरा अवसर मिलने की संभावना नहीं है.’

शरद पवार ने यह भी कहा कि वे 14 और 15 मार्च को दिल्ली में देश भर के कुछ क्षेत्रीय दलों से मिलेंगे, जहां महागठबंधन की आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी. साथ ही एनसीपी प्रमुख ने कहा कि उनकी पार्टी और कांग्रेस के बीच सीट बंटवारे के फॉर्मूले को लगभग अंतिम रूप दे दिया गया है. उनके मुताबिक इस बारे में जल्दी ही एक आधिकारिक घोषणा की जाएगी.

इसके अलावा पत्रकारों से बातचीत में पवार ने दोहराया कि उन्होंने लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है. उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि अब रुकने का वक्त आ गया है और वे अपने परिवार के अन्य सदस्यों के लिए रास्ता बनाना चाहते हैं. 78 वर्षीय नेता ने कहा कि चूंकि उनके परिवार के दो सदस्य यह चुनाव लड़ने जा रहे हैं, ऐसे में ‘किसी को पीछे हटना ही होगा.’