‘पाकिस्तान के साथ तब तक बातचीत नहीं होगी जब तक कि वह आतंकी संगठनों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता.’  

— सुषमा स्वराज, विदेश मंंत्री

सुषमा स्वराज ने यह बात ‘इंडियाज वर्ल्ड : मोदी गवर्नमेंट्स फॉरेन पॉलिसी’ विषय पर बातचीत करते हुए कही. इस मौके पर ‘बालाकोट एयर स्ट्राइक’ को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा, ‘भारत ने आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) के कैंप पर कार्रवाई की थी. लेकिन उसके बदले में पाकिस्तान की सेना ने भारत पर पलटवार किया.’ उन्होंने आगे कहा, ‘साफ है कि पाकिस्तान जेईएम को बढ़ावा दे रहा है इसीलिए उसने उसकी तरफ से भारत पर पलटवार किया.’ यहां सुषमा स्वराज का यह भी कहना था, ‘अगर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इतने ही उदार हैं तो वे मसूद अजहर को भारत के हवाले क्यों नहीं कर देते.’

‘नरेंद्र मोदी और अमित शाह की जोड़ी देश के लिए बड़ा खतरा है.’  

— अरविंद केजरीवाल, दिल्ली के मुख्यमंत्री

अरविंद केजरीवाल ने यह बात एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘आज देश दो तरह के लोगों के बीच बंट चुका है. पहला जो नरेंद्र मोदी के भक्त हैं और दूसरा वह जो उन्हें अगले चुनाव में हराना चाहते हैं.’ अरविंद केजरीवाल ने आगे कहा, ‘जो लोग उन्हें हराना चाहते हैं उनकी संख्या ज्यादा है लेकिन वे बंटे हुए हैं. उन्हें एकजुट होने की जरूरत है क्योंकि मोदी-शाह की जोड़ी इस बात का फायदा उठा रही है.’


‘सच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जेल भेजेगा.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात तमिलनाडु में एक रैली को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘प्रसिद्ध तमिल कवि​ थिरुवेल्लूर ने कहा था कि सच आपको आजादी देता है. लेकिन मैं समझता हूं कि यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर लागू नहीं होती.’ इस मौके पर राहुल गांधी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और अखिल भारतीय अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (एआईएडीएमके) पर निशाना भी साधा. उन्होंने कहा, ‘आज तमिलनाडु की राज्य सरकार दिल्ली से नियंत्रित हो रही है जबकि अतीत में ऐसा कभी नहीं हुआ.’


‘कांग्रेस शासन में भी 15 बार सर्जिकल स्ट्राइक हुई है, लेकिन पार्टी ने कभी उसे लेकर कोई चर्चा नहीं की.’  

— अशोक गहलोत, राजस्थान के मुख्यमंत्री

अशोक गहलोत ने यह दावा पत्रकारों से बातचीत करते हुए किया. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने पाकिस्तान के दो टुकड़े करके नया देश बांग्लादेश बनवा दिया. वहीं अपनी जान देकर खालिस्तान नहीं बनने दिया.’ इसके साथ ही प्रधानमंत्री पर निशाना साधते हुए अशोक गहलोत ने यह भी कहा, ‘मोदी सरकार तमाम मोर्चों पर विफल रही है. राजस्थान के विधानसभा चुनाव की तरह आम चुनाव में भी उनकी पार्टी की हार होगी.’