केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) में पांच आईपीएस (भारतीय पुलिस सेवा) अफ़सरों को संयुक्त निदेशक के तौर पर नियुक्ति दी है. इन नियुक्तियों के आदेश बुधवार देर शाम जारी किए गए.

ख़बरों के मुताबिक संयुक्त निदेशक बनाए गए अफ़सरों में झारखंड कैडर की 1994 बैच की आईपीएस संपत मीना प्रमुख हैं. वे सितंबर-2022 तक इस पद पर रहेंगी. इसी बैच के त्रिपुरा कैडर के आईपीएस अनुराग अगस्त-2021 तक संयुक्त निदेशक रहेंगे. हिमाचल प्रदेश कैडर के आईपीएस राकेश अग्रवाल भी 1994 बैच के अफ़सर हैं. लेकिन वे सितंबर-2020 तक सीबीआई में संयुक्त निदेशक रहेंगे.

जम्मू-कश्मीर कैडर के आईपीएस विप्लव कुमार चौधरी 1997 बैच के हैं. वे सितंबर-2022 तक संयुक्त निदेशक रहेंगे. जबकि 1991 बैच के राजस्थान कैडर के आईपीएस डीसी जैन पद संभालने की तारीख़ से पांच साल तक सीबीआई में संयुक्त निदेशक के पद पर रहेंगे. ग़ौरतलब है कि सीबीआई में पुलिस अफ़सरों की तैनाती प्रतिनियुक्ति पर पांच साल के लिए की जाती है.