लोकप्रिय मोबाइल गेम ‘पबजी’ (प्लेयर्स अननॉन बैटल ग्राउंड) की आख़िरी स्टेज जीत या हार पर नहीं बल्कि हवालात पर भी जाकर ख़त्म हो सकती है. बल्कि ऐसा होने ही लगा है. ख़बरों के मुताबिक राजकोट, गुजरात की पुलिस ने पबजी खेलने वाले 10 खिलाड़ियों को हिरासत में लेकर हवालात में भेजा है.

दरअसल, छह मार्च को राजकोट पुलिस आयुक्त मनोज अग्रवाल ने पबजी पर प्रतिबंध संबंधी आदेश जारी किया था. बताया जाता है कि इसके बाद पुलिस ने प्रतिबंध के उल्लंघन के 12 मामले दर्ज़ किए हैं. इनमें से बीते दो दिन के भीतर 10 लोगों को पकड़ा भी गया है. इनमें छह स्कूली बच्चे हैं. हालांकि अग्रवाल के मुताबिक, ‘किसी भी खिलाड़ी को ग़िरफ़्तार नहीं किया गया है. क्योंकि यह ज़मानती अपराध है. सभी आरोपितों को ज़मानत के साथ हिदायत देकर छोड़ा जा रहा है. अलबत्ता अदलत में उन पर मामला ज़रूर चलेगा.’

हालांकि दूसरी ख़बर की मानें तो पबजी खेलने वालों के लिए ‘हवालात की हवा खाने का ख़तरा’ सिर्फ़ राजकोट में नहीं है. गुजरात के ही सूरत, वडोदरा, भावनगर, गिर-सोमनाथ, अरावली और अहमदाबाद जिलों में भी स्थानीय पुलिस प्रमुखों ने इसी तरह का प्रतिबंध लागू कर दिया है. इसलिए इन शहरों में भी पबजी खेलने वालों को पुलिस हिरासत में ले सकती है. जांच के लिए उनके मोबाइल फोन भी जब्त किए जा सकते हैं. बताया जाता है कि पबजी के अलावा ‘माेमाे चैलेंज’ नामक एक अन्य खेल को भी प्रतिबंधित किया गया है.