कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी के पति और कारोबारी रॉबर्ट वाड्रा ने कहा है कि उनके खिलाफ जांच करने वाली एजेंसियों से उन्होंने कोई नाराजगी नहीं है. एनडीटीवी के मुताबिक उन्होंने यह बात फेसबुक पर एक पोस्ट के जरिये कही है. इसके साथ ही रॉबर्ट वाड्रा का यह भी कहना है, ‘जांच एजेंसियों के प्रति गुस्से और नाराजगी में अब मेरा कोई विश्वास नहीं है. मैं समझता हूं कि सरकार ने उन्हें जांच का काम सौंपा है और ये लोग दी गई जिम्मेदारी को पूरा कर रहे हैं.’

इसी पोस्ट में रॉबर्ट वाड्रा ने आगे लिखा है, ‘खुद पर लगे झूठे आरोपों के बीच मैंने अपनी सकारात्मक ऊर्जा को जरूरतमंदों की मदद की तरफ लगाया है. इससे मुझे शांति और खुशी मिल रही है. जब तक संभव हो सकेगा मैं ऐसा करना जारी रखूंगा.’

रॉबर्ट वाड्रा के खिलाफ मनी लॉन्डरिंग के जरिये ब्रिटेन के लंदन में कई संपत्तियां हासिल करने के आरोप हैं. इस मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) उनसे पूछताछ कर रहा है. हालांकि वाड्रा ने विदेश में अपनी कोई संपत्ति होने से इनकार किया है. साथ ही खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद भी बताया है. इसके अलावा राजस्थान और हरियाणा के कुछ जमीन सौदों में भी उनकी भूमिका जांच के घेरे में है.

इससे पहले बीते महीने रॉबर्ट वाड्रा ने लोगों की मदद करने और उनके लिए कुछ खास करने संबंधी एक बयान दिया था. उसके बाद से उनके राजनीति में प्रवेश की अटकलें लग रही थीं. इस बीच इसी महीने उन अटकलों पर विराम लगाते हुए उन्होंने कहा था कि जब तक उन पर लगे विभिन्न आरोपों से उन्हें मुक्ति नहीं मिल जाती वे चुनाव नहीं लड़ेंगे. हालांकि इस दौरान उनके कुछ समर्थकों ने उनसे मुरादाबाद या फिर गाजियाबाद से लोकसभा का आगामी चुनाव लड़ने का आग्रह किया है.