केरल के वरिष्ठ कांग्रेसी टॉम वडक्कन और पश्चिम बंगाल टीएमसी के अर्जुन सिंह भाजपा में शामिल

दूसरी पार्टियों से नेताओं के आयात के मामले में भारतीय जनता पार्टी को गुरुवार के दिन दो बड़ी सफलताएं हाथ लगीं. वह भी केरल और पश्चिम बंगाल जैसे उन राज्यों से जहां उसका जनाधार न के बराबर है. केरल से कांग्रेस के वरिष्ठ नेता टॉम वडक्कन और पश्चिम बंगाल से सत्ताधारी टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) के वरिष्ठ नेता व विधायक अर्जुन सिंह ने भाजपा का दामन थामा है. (विस्तार से)

सुप्रीम कोर्ट ने रैनबैक्सी के मालिकों से कहा- दो हफ्ते में बताइए, 3,500 करोड़ रुपए कब चुकाएंगे

दवा निर्माण के क्षेत्र में दुनिया की जानी-मानी भारतीय कंपनी रैनबैक्सी के मालिकों- मलविंदर और शिविंदर सिंह पर सुप्रीम कोर्ट ने सख़्त टिप्पणी की है. शीर्ष अदालत के मुख्य न्यायाधीश रंजन गाेगोई की अध्यक्षता वाली बेंच ने रैनबैक्सी से जुड़े एक मामले की सुनवाई के दौरान इस कंपनी के मालिकों से कहा कि दो सप्ताह में बताइए, 3,500 करोड़ रुपए की रकम कब और कैसे चुकाएंगे. ( विस्तार से)

जम्मू-कश्मीर : नेशनल कॉन्फ्रेंस चुनाव आयोग के साथ बैठक में हिस्सा नहीं लेगी

नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर पहुंच रहे चुनाव आयोग के प्रतिनिधिमंडल के साथ मुलाकात नहीं करने का फैसला लिया है. पार्टी ने कहा कि लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ कराने की मांग के अलावा उसके पास कहने के लिए कुछ नहीं है. (विस्तार से)

आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में नरेंद्र मोदी मनमोहन सिंह के मुकाबले ज्यादा सख्त हैं : शीला दीक्षित

कांग्रेस की दिल्ली इकाई की अध्यक्ष शीला दीक्षित ने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की तुलना में मौजूदा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कहीं ज्यादा सख्त बताया है. शीला दीक्षित ने यह बात सीएनएन न्यूज 18 को दिए एक इंटरव्यू के दौरान 26/11 के मुंबई आतंकी हमले को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कही है. हालांकि इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है, ‘नरेंद्र मोदी के ज्यादातर काम राजनीति से प्रेरित होने के साथ ही राजनीतिक लाभ लेने के लिए होते हैं.’ (विस्तार से)

देश के कुछ शहरों में मोबाइल गेम ‘पबजी’ की आख़िरी स्टेज अब हवालात भी हो सकती है!

लोकप्रिय मोबाइल गेम ‘पबजी’ (प्लेयर्स अननॉन बैटल ग्राउंड) की आख़िरी स्टेज जीत या हार पर नहीं बल्कि हवालात पर भी जाकर ख़त्म हो सकती है. बल्कि ऐसा होने ही लगा है. ख़बरों के मुताबिक राजकोट, गुजरात की पुलिस ने पबजी खेलने वाले 10 खिलाड़ियों को हिरासत में लेकर हवालात में भेजा है. ( विस्तार से)

अगर इमरान खान इतने ही बड़े राजनेता हैं तो वे मसूद अज़हर को हमारे हवाले कर दें : सुषमा स्वराज

विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान पर सवाल उठायाहै. उन्होंने कहा, ‘अगर इमरान खान बहुत नरम दिल हैं. उदार राजनेता हैं, तो वे मसूद अज़हर को हमारे हवाले कर दें. देख लेते हैं हम उनकी उदारता.’ ( विस्तार से)

कमजोर नरेंद्र मोदी, शी जिनपिंग से डरे हुए हैं : राहुल गांधी

आतंकवादी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित कराने के प्रयास में चीन द्वारा अड़ंगा लगाए जाने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है. उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग से डरे हुए हैं और चीन के खिलाफ उनके मुंह से एक शब्द नहीं निकलता है. (विस्तार से)

अजीम प्रेमजी परोपकार के लिए 52,750 करोड़ रुपये देंगे

विप्रो के चेयरमैन अजीम प्रेमजी ने कंपनी में अपनी शेयरहोल्डिंग का अतिरिक्त 34 प्रतिशत हिस्सा परोपकार के लिए देने का फैसला किया है. इन 34 प्रतिशत शेयरों की कीमत 7.5 बिलियन डॉलर (52,750 करोड़ रुपये) के आसपास बताई जा रही है. देश की तीसरी सबसे बड़ी आईटी कंपनी के चेयरमैन प्रेमजी फाउंडेशन के जरिये परोपकार के काम करते रहे हैं. (विस्तार से)

उत्तर प्रदेश में चुनाव प्रचार के दौरान सपा और बसपा की संयुक्त रैलियां होंगी : अखिलेश यादव

समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि आगामी आम चुनाव के प्रचार के दौरान उत्तर प्रदेश में उनकी पार्टी बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के साथ संयुक्त रैलियां करेगी. सपा अध्यक्ष ने यह बात पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह जानकारी भी दी, ‘आगामी आम चुनाव की रणनीति तय करने के लिए इसी बुधवार को सपा-बसपा के बीच एक बैठक हुई थी. उसी बैठक के दौरान यह फैसला किया गया.’ (विस्तार सेे)

प्रदूषण पर एकजुट नहीं हुए तो 2050 तक लाखों लोगों की अकाल मृत्यु हो सकती है : संयुक्त राष्ट्र

संयुक्त राष्ट्र ने प्रदूषण के मुद्दे पर अपनी एक रिपोर्ट में कहा है कि बिगड़ते पर्यावरण के भयानक परिणामों से मानवता को बचाने के लिए तत्काल कदम उठाए जाएं. टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक रिपोर्ट में चेतावनी दी गई है कि अगर अभी भी सभी देश पर्यावरण को बचाने के लिए एकजुट नहीं हुए और सख्त कदम नहीं उठाए गए तो 2050 तक एशिया, पश्चिमी एशिया और अफ्रीका में लाखों लोगों की अकाल मृत्यु हो सकती है. अभी ही दुनिया भर में समय से पहले और बीमारियों से जितनी मौतें होती हैं, उनमें एक चौथाई प्रदूषण और इसके चते पर्यावरण को हुए नुकसान के कारण होती हैं. (विस्तार सेे)

देश और दुनिया की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें.