मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनस के पास फुटओवर ब्रिज गिरने की घटना सोशल मीडिया पर कल शाम से ही लोगों की प्रतिक्रियाओं का हिस्सा बनी हुई है. बीते दो सालों में मुंबई में ब्रिज गिरने का यह तीसरा बड़ा हादसा है. बाकी दो की तरह इस ब्रिज के रखरखाव की जिम्मेदारी भी बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) की थी. यही वजह है कि फेसबुक और ट्विटर पर लोगों ने बीएमसी और उसको चलाने वाली शिवसेना-भाजपा के खिलाफ जमकर टिप्पणियां की हैं. ट्विटर हैंडल @ayiarastar प्रतिक्रिया है, ‘बीएमसी तो घूस लेने में व्यस्त है. ऐसे में बेहतर होगा कि मुंबई में हर ब्रिज के पास एंबूलेंस खड़ी करवा दी जाएं... पता नहीं कौन-सा कब गिर जाए.’

इस बीच महाराष्ट्र की भाजपा सरकार को निशाना बनाते हुए यहां प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का एक वीडियो भी शेयर किया जा रहा है. यह 2016 में पश्चिम बंगाल के कोलकाता में ब्रिज गिरने के हादसे के बाद का वीडियो है. तब राज्य में एक रैली के दौरान मोदी ने ममता बनर्जी और उनकी पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा था कि यह घटना लोगों को ‘ईश्वर की ओर से दिया गया संदेश है’ कि वे सत्ताधारी पार्टी से राज्य को बचाएं.

इसके साथ ही यहां भाजपा की प्रवक्ता संजू वर्मा की एक बयान के चलते खूब लानत-मलानत की जा रही है. उन्होंने कल एक टीवी कार्यक्रम के दौरान इस हादसे के लिए ब्रिज पार करने वाली भीड़ को ही जिम्मेदार ठहरा दिया था. एक यूजर ने लिखा है, ‘संजू वर्मा सही कह रही हैं. लोग ही जिम्मेदार हैं... इस हादसे के लिए नहीं बल्कि उस सरकार को चुनने के लिए जो उनकी परवाह नहीं करती.’

सोशल मीडिया में इस हादसे को लेकर आई कुछ और प्रतिक्रियाएं :

शकुनि मामा | @ShakuniUncle

भाजपा की प्रवक्ता संजू वर्मा नेहरू का नाम भूल गईं तो उन्होंने पुल गिरने के लिए जनता को ही जिम्मेदार ठहरा दिया.

रवि नायर |‏ @t_d_h_nair

देवेंद्र फडणवीस का नाम लिए बिना उनको प्रधानमंत्री का संदेश :

राजदीप सरदेसाई | @sardesairajdeep

उम्मीद की जाए कि कोई मुंबई में ब्रिज गिरने के लिए नेहरू को जिम्मेदार न ठहरा दे... यह जवाबदेही तय करने का वक्त है. ‘चलता है...’ का रवैया मुंबई की मुश्किलों की वजह है.

पन्सटर | @Pun_Starr

पुलों और देश के संस्थानों में एक समानता है. ये मोदी सरकार के दौरान ढह रहे हैं.

मंजुल | @MANJULtoons

जब आप सड़क खराब होने की शिकायत करते हैं तो अक्सर जवाब मिलता है कि अभी तो बनवाई थी पर ट्रक बहुत निकलते हैं इसलिए खराब हो गई. इसी तर्ज पर भाजपा प्रवक्ता ने बताया कि पुल तो बढ़िया था पर पैदल चलने वालों की वजह से गिर पड़ा.

अतुल खत्री | @one_by_two

यह बताइए कि मुंबई में ब्रिज गिर गया है तो आप इसको लेकर क्या करने वाले हैं?
सरकार – हम इसका नाम बदलकर मुंबादेवी ब्रिज रख देंगे.