इतिहास में 18 मार्च का दिन हिंदी सिनेमा के एक ऐसे अभिनेता से जुड़ा है जिसने न सिर्फ कमर्शियल सिनेमा में नाम कमाया, बल्कि थियेटर की परंपरा को बनाए रखने का भी काम किया. यह अभिनेता हैं शशि कपूर. साल 1938 में आज ही के दिन उनका जन्म हुआ था.

पद्मभूषण और दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित शशि कपूर का जन्म कोलकाता में हुआ था. वे अच्छे अभिनेता तो थे ही, साथ ही उनकी सिनेमाई समझ भी अंतरराष्ट्रीय स्तर की थी. शशि कपूर उन चुनिंदा भारतीय अभिनेताओं में शामिल रहे जिन्होंने पश्चिमी सिनेमा में भी काम किया. वहीं, बॉलीवुड फिल्मों में अभिनय करने के साथ वे समांतर सिनेमा आंदोलन का समर्थन करते रहे. शशि ने रंगमंच के कलाकारों के लिए पृथ्वी थियेटर को नया आयाम दिया. चार दिसंबर, 2017 को उनका निधन हो गया.

देश-दुनिया के इतिहास में 18 मार्च को दर्ज अन्य कुछ महत्वपूर्ण घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है:

1858 : डीजल इंजन के खोजकर्ता रूडोल्फ डीजल का जन्म.

1914 : आजाद हिन्द फौज के अधिकारी गुरबख्श सिंह ढिल्लों का जन्म.

1914 : अंतरराष्ट्रीय न्यायालय के पूर्व अध्यक्ष नागेंद्र सिंह का जन्म.

1922 : महात्मा गांधी को कारावास की सजा सुनाई गई.

1940 : इटली शासक मुसोलिनी, हिटलर से बातचीत में युद्ध में प्रवेश के लिए सहमत हुए.

1965 : रूसी अंतरिक्ष यात्री एलेक्सी लियोनोव अंतरिक्ष में प्रवेश करने वाले पहले व्यक्ति बने.

1980 : समाजशास्त्री व मनोवैज्ञानिक एरिक फ्रॉम का निधन.

2000 : युगांडा में 230 लोगों ने आत्मदाह किया.