इतिहास में 22 मार्च का दिन कई महत्वपूर्ण घटनाओं का गवाह है. करीब 280 साल पहले इसी दिन मुगलों की राजधानी रही दिल्ली में फारस की फौज ने कत्लेआम किया था. दरअसल, मार्च, 1739 में फारस (अब ईरान) के बादशाह नादिर शाह ने भारत पर हमला कर दिया था. करनाल में हुई लड़ाई में उसकी सेना ने मुगलिया सेना को बुरी तरह शिकस्त दी थी. इसके बाद नादिर शाह का दिल्ली पर कब्जा हो गया.

लेकिन दिल्ली पहुंचने के बाद यह अफवाह उड़ी कि नादिर ने मुगल शहंशाह मुहम्मद शाह की हत्या कर दी है. उसके दिल्ली में दंगे भड़क गए और लोगों ने नादिर की सेना के कई सिपाहियों को मार दिया. इससे गुस्साए फारस के बादशाह ने दिल्ली में आम लोगों को मारने का हुक्म दिया. आज की पुरानी दिल्ली के कई इलाकों में उसकी फौज ने कई लोगों को मौत के घाट उतार दिया. इतिहास में इस घटना को ‘कत्ले आम’ के तौर पर जाना जाता है.

देश-दुनिया के इतिहास में 22 मार्च को दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का ब्योरा इस प्रकार है:

1890 : रामचंद्र चटर्जी पैराशूट से उतरने वाले पहले भारतीय व्यक्ति बने.

1893 : चटगांव विद्रोह का नेतृत्व करने वाले महान क्रांतिकारी सूर्य सेन का जन्म.

1947 : लॉर्ड माउंटबेटन आखिरी वायसराय के तौर पर भारत आए.

1969 : इंडियन पेट्रोकेमिकल्स कॉर्पोरेशन लिमिटेड का उद्घाटन.

1977 : आपातकाल के बाद हुए आम चुनाव में कांग्रेस की जबर्दस्त शिकस्त के बाद प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने राष्ट्रपति को इस्तीफा सौंपा.

2000 : फ्रेंच गुयाना के कौरू से इनसैट 3 बी का प्रक्षेपण.

1993 : पहली बार विश्व जल दिवस मनाया गया.