इतिहास में 25 मार्च का दिन हरित क्रांति के जनक नॉर्मन बोरलॉग के जन्मदिन के रूप में दर्ज है. 1914 में आज ही के दिन जन्मे नॉर्मन बोरलॉग को कृषि क्षेत्र में अभूतपूर्व बदलाव लाने के लिए याद किया जाता है. उनके क्रांतिकारी शोधों ने इस क्षेत्र का नक्शा बदल कर रख दिया है. कहा जाता है कि विकासशील देशों को इसका विशेष रूप से फायदा मिला. उनके इस योगदान के लिए उन्हें 1970 में नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया था.

देश-दुनिया के इतिहास में 25 मार्च की तारीख में दर्ज अन्य महत्वपूर्ण घटनाओं का ब्यौरा इस प्रकार है:

1655 : शनि के सबसे बड़े उपग्रह टाइटन की खोज हुई.

1807 : ब्रिटिश साम्राज्य से दास प्रथा का अंत.

1821 : ग्रीक स्वतंत्रता युद्ध का प्रारंभ.

1965 : नागरिक अधिकारों के लिए संघर्षरत मार्टिन लूथर किंग जूनियर का चार दिवसीय मार्च संपन्न.

1914 : अमेरिकी कृषि वैज्ञानिक और मानवतावदी एवं नोबेल पुरस्कार से सम्मानित नॉर्मन बोरलॉग का जन्म.

1920 : स्वाधीनता सेनानी और गांधीवादी नेता ऊषा मेहता का जन्म.

1931 : महान पत्रकार और राजनेता गणेश शंकर विद्यार्थी का निधन.