‘न्याय के जरिये कांग्रेस गरीबी पर सर्जिकल स्ट्राइक करेगी.’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात राजस्थान के श्रीगंगानर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उन्होंने यह भी कहा, ‘मोदी जी ने पांच साल के अपने शासन में सिर्फ अमीरों की सुध ली है. उन्हें पैसा बांटा है. लेकिन न्यूनतम आय गारंटी योजना (न्याय) के जरिये कांग्रेस गरीबों की मदद करेगी. क्योंकि कांग्रेस देश से गरीबी मिटाना चाहती है.’ राहुल गांधी का यह भी कहना था कि 21वीं सदी में भारत को ‘न्यूनतम आय रेखा’ निर्धारित करनी चाहिए और इस रेखा के नीचे देश का कोई परिवार नहीं होना चाहिए.

‘भारत की जीडीपी वृद्धि दर के आंकड़े संदेहास्पद हैं.’  

— रघुराम राजन, रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व गवर्नर

रघुराम राजन ने यह बात एक इंटरव्यू के दौरान कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘जब देश में नौकरियों का सृजन ही नहीं हो रहा है तो ऐसे में सात प्रतिशत की वृद्धि दर का आंकड़ा संदेह के घेरे में आता है. इसे दूर किया जाना चाहिए.’ रघुराम राजन ने आगे कहा, ‘इस बारे में नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के एक मंंत्री भी संदेह जता चुके हैं.’ हालांकि उन्होंने उस मंत्री के नाम का खुलासा नहीं किया. उनका यह भी कहना था कि नेशनल सैंपल सर्वे ऑफिस (एनएसएसओ) बेरोजगारी के आंकड़े जारी नहीं कर रहा है. कथित तौर इस रिपोर्ट के आने से साफ हो जाएगा कि 2017 के दौरान बीते 45 सालों में बेरोजगारी अपने उच्च स्तर पर पहुंच चुकी है.


‘आज भारत को ऐसे प्रधानमंत्री की जरूरत है जिसके शपथ लेते ही इसके दुश्मनों की सांसें बैठ जाएं.’  

— अमित शाह, भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष

अमित शाह ने यह बात उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में एक रैली को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा कि नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली सरकार के लिए देश की सुरक्षा सर्वप्रथम है. यही वजह है कि भारत पर आतंकी हमला करने वाले आतंकवादियों को देश की सेना ने उन्हीं के घर में घुसकर मारा. इसके साथ ही अमित शाह ने बालाकोट एयर स्ट्राइक का श्रेय देश की सेना को देते हुए कहा एक वक्त था जब इजरायल और अमेरिका जैसे देश ही अपने सैनिकों का बदला लेते थे. लेकिन अब उस फेहरिस्त में भारत का नाम भी शामिल हो गया है.


‘लोकसभा के चुनाव खत्म होने तक भारत-पाकिस्तान के रिश्तों में तनाव बरकरार रहेगा.’  

— इमरान खान, पाकिस्तान के प्रधानमंत्री

इमरान खान ने यह बात दोनों देशों के आपसी संबंधों को लेकर कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘खतरा अभी टला नहीं है. ऐसे में भारत की तरफ से होने वाले किसी भी हमले से निपटने के लिए पाकिस्तान पहले से ही तैयार है.’ इमरान खान का यह भी कहना था कि आगामी चुनाव के प्रचार के दौरान नरेंद्र मोदी दोनों देशों के बीच इस तनाव का फायदा उठाने की कोशिश भी करेंगे.


‘मीडिया लोगों का दुश्मन है.’  

— डोनाल्ड ट्रंप, अमेरिका के राष्ट्रपति

डोनाल्ड ट्रंप ने यह बात एक ट्वीट के जरिये कही है. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘मुख्यधारा की मीडिया निशाने पर है. पूरी दुनिया में उसे भ्रष्ट और फर्जी बताया जा रहा है.’ उन्होंने आगे कहा, ‘दो वर्षों से मीडिया रूस के साथ सांठगांठ का भ्रम फैला रहा था, जबकि ऐसा कुछ नहीं था.’ इससे पहले 2016 में हुए अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान ट्रंप पर रूस की मदद लेने के आरोप लगे थे. लेकिन इसी सोमवार को एक जांच रिपोर्ट में उन्हें ऐसे आरोपों से क्लीनचिट दे दी गई है.