आंध्र प्रदेश की 25 लोक सभा सीटों के साथ ही 11 अप्रैल को 175 विधानसभा सीटों के लिए भी वोट डाले जाने हैं. इस दोनों चुनावों के लिए चुनाव प्रक्रिया अगले चरण में पहुंच गई है. यहां मंगलवार को नामांकन पत्रों की छंटाई के बाद विधानसभा चुनाव में 3,925 और लोक सभा के लिए 548 उम्मीदवार बचे हैं. राज्य में 3.93 करोड़ मतदाता हैं. इनमें 4,000 थर्ड जेंडर (स्त्री न पुरुष) वाले हैं.

राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी गोपाल कृष्ण द्विवेदी ने मीडिया को बताया कि सबसे ज़्यादा नंदयाल लोक सभा सीट पर 38 उम्मीदवारों ने नामांकन दाख़िल किया है. जबकि चित्तूर लोक सभा सीट पर फिलहाल सबसे कम 13 प्रत्याशी हैं. विधानसभा चुनाव के मामले में भी नंदयाल ही सबसे ऊपर है. नंदयाल विधानसभा सीट पर 61 उम्मीदवारों ने नामांकन दाख़िल किए हैं. जबकि मंत्रालयम विधानसभा सीट पर अब तक सिर्फ 13 प्रत्याशी हैं. आंध्र प्रदेश में बुधवार को नाम वापसी का आख़िरी दिन है.

इस बीच विजयनगरम जिले की कुरुपम विधानसभा सीट से तेलुगु देशम पार्टी (टीडीपी) के अधिकृत प्रत्याशी जनार्दन थटराज का नामांकन ख़ारिज़ हो गया है. यह सीट अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित है. विपक्षी भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस पार्टी का आरोप था कि जनार्दन ने फ़र्ज़ी जाति प्रमाण पत्र जमा कराया है. जिला निर्वाचन अधिकारी ने यह शिकायत सही पाई. बताया जाता है कि अब जर्नादन की जगह उनकी मां नरसिम्हा प्रिया टीडीपी उम्मीदवार हो सकती हैं. उन्होंने जनार्दन के समर्थन में नामांकन दाख़िल किया था.