कर्नाटक के सिंचाई मंत्री सीएस पुट्‌टराजू के और उनके रिश्तेदारों के ठिकानों पर गुरुवार सुबह आयकर विभाग की टीमों ने छापा मारा है. ख़बरों के मुताबिक कार्रवाई अब भी जारी है.

सूत्राें ने बताया, ‘आयकर विभाग को यह जानकारी मिली थी कि सीएस पुट्‌टराजू के घर में लगभग 40 करोड़ रुपए की अवैध रकम छिपाकर रखी गई है. यह पैसा चुनाव में ख़र्च किया जाने वाला है. मतदाताओं के बीच भी यह पैसा बांटे जाने की जानकारी मिली थी. इसके बाद छापे की कार्रवाई की गई. विभाग यह भी पता लगा रहा है कि यह पैसा कहां से हासिल किया गया.’

बताया जाता है कि आयकर विभाग की टीमों ने मंड्या के पांडवपुरा में स्थित सीएस पुट्‌टराजू के घर पर छापा मारा है. इसके अलावा उनके भतीजे अशोक के मैसुरु स्थित घर पर भी छापा मारा गया है. अशोक राष्ट्रीय राजमार्गों के निर्माण का ठेका लेते हैं. पुट्‌टराजू के करीबी सहयोगी रमेश के ठिकानों पर भी छापा पड़ा है. वह भी सड़क निर्माण आदि के ठेके लेते हैं.

राज्य के लोक निर्माण मंत्री और मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के भाई एचडी रेवन्ना के सहयोगियों और उनसे जुड़े ठेकेदारों के ठिकानों पर छापामारी की गई है. इनमें रेवन्ना के सहयोगी अश्वथ नारायण रेड्‌डी और राया गौड़ा प्रमुख हैं. लोक निर्माण विभाग के हासन स्थित दफ़्तर पर भी छापा मारा गया है. इसके अलावा शिवमोगा, बेंगलुरु, चिकमगलुरु में भी छापे की कार्रवाई चल रही है.

ग़ौरतलब है कि मंड्या लोक सभा सीट से मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी के पुत्र निखिल गौड़ा जेडीएस (जनता दल-सेकुलर) उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं. उनके ख़िलाफ कन्नड़ अभिनेता अंबरीष की पत्नी सुमलता अंबरीष निर्दलीय चुनाव मैदान में हैं. भाजपा उनके समर्थन में है. कुमारस्वामी ने इस सीट पर सीएस पुट्‌टराजू को चुनाव प्रभारी बनाया है. इस कार्रवाई पर एचडी कुमारस्वामी ने कहा है, ‘आयकर विभाग की इस कार्रवाई के जरिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की असल सर्जिकल स्ट्राइक का ख़ुलासा हो गया है.’