बिहार राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी), कांग्रेस और राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (आरएलएसपी) के बीच सीट बंटवारे पर सहमति बन गई है. इस संबंध में राजधानी में पटना में राज्य के पूर्व उपमुख्यमंत्री और आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने ऐलान किया. साथ ही उन्होंने यह भी जोड़ा कि महागठबंधन में ‘सब ठीक है.’

तेजस्वी यादव ने मीडिया को बताया कि समझौते के तहत आरजेडी राज्य की 40 में 19 सीटों पर चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस को नौ सीटें दी गई हैं. इनमें पटना लोक सभा सीट भी शामिल है. यहां से भाजपा ने अपने मौज़ूदा सांसद और अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा का टिकट काट दिया है. उनकी जगह केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को उम्मीदवार बनाया गया है. इसके बाद शत्रुघ्न सिन्हा के बारे में ख़बर आई है कि वे कांग्रेस के टिकट पर पटना से लाेक सभा चुनाव लड़ सकते हैं.

इस संबंध में तेजस्वी ने आगे बताया कि महागठबंधन में आरएलएसपी के ख़ाते में पांच सीटें आई हैं. आरएलएसपी पहले भाजपा के नेतृत्व वाले एनडीए (राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन) का हिस्सा थी. लेकिन बीते दिसंबर में वह इससे अलग होकर महागठबंधन में शामिल हो गई थी. तेजस्वी ने आरजेडी उम्मीदवारों का भी ऐलान किया. उनके मुताबिक उनकी बहन मीसा भारती पाटलिपुत्र से आरजेडी प्रत्याशी होंगी. उनके बड़े भाई तेज प्रताप ससुर चंद्रिका राय सारण से चुनाव लड़ेंगे. जबकि जेडीयू (जनता दल-यूनाइटेड) के निष्कासित नेता शरद यादव मधेपुरा से उम्मीदवार बनाए गए हैं.