सुप्रीम कोर्ट ने अपहरण और हत्या के एक मामले में जानी-मानी सर्वणा भवन होटल श्रृंखला के मालिक पी राजगोपाल के आजीवन कारावास की सजा को बरकरार रखा है. इस खबर को आज के अधिकतर अखबारों ने पहले पन्ने पर जगह दी है. राजगोपाल को 18 साल पहले तमिलनाडु में एक व्यक्ति का अपहरण और बाद में हत्या होने से जुड़े मामले में दोषी पाया गया था. इससे पहले मद्रास हाई कोर्ट ने दोषी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी. शीर्ष अदालत ने मेडिकल आधार पर आत्मसमर्पण करने के लिए राजगोपाल को सात जुलाई तक का समय दिया है. बताया जाता है कि साल 2001 में दोषी ने अपने आठ वफादार लोगों को प्रिंस संतकुमार नाम के व्यक्ति का पहले अपहरण करने और बाद में हत्या करने का काम सौंपा था.

दिल्ली में वाहनों का परिवार नियोजन किया जाना चाहिए : सुप्रीम कोर्ट

कोर्ट ने दिल्ली में कारों की संख्या में बेतहाशा बढ़ोतरी को लेकर चिंता जाहिर की है. अमर उजाला में प्रकाशित खबर के मुताबिक शीर्ष अदालत ने वायु प्रदूषण से चिंतित होकर वाहनों के मामले में भी परिवार नियोजन जैसे उपाय अमल में लाने का सुझाव दिया है. न्यायाधीश अरुण मिश्रा और न्यायाधीश दीपक गुप्ता की पीठ ने कहा, ‘आखिर एक परिवार को चार-पांच वाहन रखने की इजाजत क्यों मिलनी चाहिए. क्यों नहीं वाहनों का भी परिवार नियोजन किया जाना चाहिए और हम दो, हमारे दो का सिद्धांत अपनाया जाना चाहिए.’ सुप्रीम कोर्ट ने आगे कहा कि दिल्ली में वाहनों की संख्या इस कदर बढ़ गई है कि लोगों के पास इन्हें खड़ा करने की भी जगह नहीं है. अदालत का यह भी कहना था कि गाड़ियों की पार्किंग को लेकर मारपीट से लेकर हत्या किए जाने की घटनाएं भी सामने आती हैं.

50 फीसदी वीवीपैट पर्चियों के ईवीएम से मिलान करने पर चुनावी नतीजे घोषित करने में पांच दिनों की देरी

चुनाव आयोग ने सुप्रीम कोर्ट को बताया है कि 50 फीसदी वीवीपैट पर्चियों के ईवीएम से मिलान करने की वजह से चुनावी नतीजे सामने आने में पांच दिनों की देरी हो सकती है. द टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक आयोग ने कहा है कि इस कवायद से कुछ हासिल भी नहीं होगा क्योंकि, 99.99 फीसदी मतदाताओं का विश्वास ईवीएम पर है. शीर्ष अदालत को दिए हलफनामे में आयोग ने यह भी कहा है कि इसके लिए चुनाव अधिकारियों को गहन प्रशिक्षण दिए जाने की जरूरत होगी. इससे पहले कांग्रेस सहित 21 विपक्षी दलों ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर 50 फीसदी वीवीपैट पर्चियों के ईवीएम से मिलान करने का निर्देश दिए जाने की मांग की थी.

वित्तीय वर्ष 2019-20 की पहली छमाही में 4.42 लाख करोड़ रुपये कर्ज लेने की तैयारी

वित्त मंत्रालय ने कहा है कि केंद्र सरकार वित्तीय वर्ष 2019-20 की पहली छमाही में कुल 4.42 करोड़ लाख रुपये का कर्ज लेगी. हिन्दुस्तान में छपी खबर के मुताबिक आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने इसकी जानकारी दी. उनके मुताबिक कुल कर्ज में 3.4 लाख करोड़ रुपये नए कर्ज के रूप में होंगे. बताया जाता है कि अगले वित्तीय वर्ष में कुल 7.1 लाख करोड़ रुपये कर्ज लेने का लक्ष्य तय किया गया है. सुभाष चंद्र गर्ग ने बताया कि चालू वित्तीय वर्ष (2018-19) में राजकोषीय घाटे को 3.4 फीसदी के दायरे में सीमित रखा जाएगा. वहीं, फरवरी के आखिर तक राजकोषीय घाटा पूरे साल के संशोधित बजट अनुमान 6.34 लाख करोड़ रुपये के 134.2 फीसदी (8.5 लाख करोड़ रु) तक पहुंच चुका है.

त्रिपुरा : राजभवन के एक कर्मचारी पर बच्ची के बलात्कार का आरोप

त्रिपुरा की राजधानी अगरतला स्थित राजभवन के एक 50 वर्षीय कर्मचारी पर आठ साल की एक बच्ची का बलात्कार करने का आरोप लगा है. द हिंदू की रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने ग्रुप डी सर्विस क्लास में नियुक्त दिलीप कुमार दास को गिरफ्तार कर लिया है. बताया जाता है कि इस मामले की शिकायत पीड़ित बच्ची की मां ने पुलिस के सामने की थी. इससे पहले जनवरी में राज्य के धलाई जिले में भी चार वर्षीय बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया था. इस मामले में बच्ची का पिता आरोपित था.

दुनिया में पहली बार एचआईवी से संक्रमित किसी व्यक्ति ने किडनी डोनेट की

दुनिया में पहली बार एचआईवी से संक्रमित किसी व्यक्ति ने अपनी किडनी डोनेट की है. नवभारत टाइम्स की खबर के मुताबिक अमेरिका के बाल्टीमोर में जॉन्स हॉपकिन्स अस्पताल के डॉक्टरों ने इस काम को अंजाम दिया. बताया जाता है कि जिस मरीज के शरीर में इस किडनी को प्रत्यारोपित किया गया है वह भी एचआईवी से संक्रमित है. किडनी दान करने वाली नीना मार्टिनेज को बचपन में संक्रमित खून चढ़ाने की वजह से एचआईवी संक्रमण हुआ था. नीना ने कहा, ‘मैं चाहती हूं कि लोग एचआईवी मरीज को देखने के नजरिए पर दोबारा विचार करें.’