प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्षी दलों पर निशाना साधते हुए कहा है कि इन पार्टियों के नेता आतंकवादियों की बोली बोलते हैं. स्क्रोल डॉट इन के मुताबिक उन्होंने यह बात अरुणाचल प्रदेश के आलो में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कही. उन्होंने कहा, ‘देश जिस बात पर गर्व करता है, विपक्ष को उस पर दुख होता है. दुनियाभर में जब भारत के नाम का डंका बजता है तो ये लोग तिलमिला उठते हैं.’ नरेंद्र मोदी ने आगे कहा, ‘जब भारत ने आतंकवादियो को उनके घर में घुसकर मारा तो इनका क्या रवैया रहा, यह आपने भी देखा है.’ मिशन शक्ति का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा, ‘जब हमारे वैज्ञानिक दुनिया को हैरान कर देते हैं तो भी विपक्षी नेता उसका मजाक उड़ाने के बहाने खोज लेते हैं.’

इस मौके पर प्रधानमंत्री ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि सत्ता मिलते ही इस पार्टी के लोग साठ-गांठकर भ्रष्टाचार में डूब जाते हैं. सवालिया लहजे में उन्होंने यह भी कहा, ‘क्या आपको पता है इनके जो नेता गरीबों की थाली से निवाला चुराते हैं उन्हें इसकी प्रेरणा कहां से मिलती है.’ इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि इसकी प्रेरणा दिल्ली में बैठे हुए वे नेता हैं जो इनकम टैक्स चुराते हैं. जो किसानों की जमीन चुराते हैं. जो देश के रक्षा सौदों में दलाली से अपनी संपत्ति भी बनाते हैं. इस दौरान मोदी ने यह भी कहा कि कांग्रेस के नेताओं में पाकिस्तान के प्रति विशेष लगाव और मोहब्बत देखने को मिलती है. यही वजह है कि उनके बयान पाकिस्तान की खबरों की सुर्खियों में रहते हैं.

इसके साथ ही नरेंद्र मोदी ने उम्मीद जताई कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के नेतृत्व वाली केंद्र और अरुणाचल प्रदेश की राज्य सरकार राज्य के लिए विकास का दोहरा इंजन साबित होगी. उन्होंने कहा, ‘उत्तर-पूर्व में अगले पांच साल के दौरान 25 सालों का काम दिखाई देगा.’ उन्होंने यह भी कहा कि बीते 30 सालों में किसी प्रधानमंत्री ने आलो का दौरा नहीं किया. लेकिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार के पांच साल के शासन के दौरान उसके प्रधानमंत्री ने 30 बार उत्तर-पूर्व का दौरा किया है.