भारत में चल रही टी-20 क्रिकेट की प्रतिस्पर्धा- आईपीएल (इंडियन प्रीमियर लीग) के पाकिस्तान में प्रसारण पर प्रतिबंध लगा दिया गया है. पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने मीडिया को बताया कि प्रधानमंत्री इमरान खान की अध्यक्षता में मंगलवार को हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह फैसला किया गया है. इमरान खान पाकिस्तान की विश्व विजेता क्रिकेट टीम के कप्तान रहे हैं.

समाचार एजेंसी भाषा के मुताबिक फवाद चौधरी ने कहा है, ‘भारत ने पाकिस्तान में क्रिकेट को नुकसान पहुंचाने का संगठित प्रयास किया. ऐसे में हमारे यहां भारत के घरेलू टूर्नामेंट (आईपीएल) के प्रचार-प्रसार की स्वीकृति देने का मतलब नहीं है. लिहाज़ा अब पाकिस्तान इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक प्राधिकरण सुनिश्चित करेगा कि आईपीएल का देश में प्रसारण न होने पाए.’

फवाद चौधरी ने कहा, ‘पाकिस्तान सरकार का मानना है कि खेल और संस्कृति का राजनीतिकरण नहीं किया जाना चाहिए. लेकिन भारत ने पाकिस्तान के खिलाड़ियों और कलाकारों के ख़िलाफ़ आक्रामक रवैया अपनाया है. हमारे क्रिकेट को नुकसान पहुंचाने के लिए पाकिस्तान सुपर लीग (पीएसएल) का आधिकारिक भारतीय प्रसारणकर्ता टूर्नामेंट के चौथे सत्र से पीछे हट गया था.’

ग़ौरतलब है कि भारतीय कंपनी आईएमजी रिलायंस को दुनियाभर में पीएसएल की टेलीविजन कवरेज का ठेका मिला था. लेकिन जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में बीती 14 फरवरी को केंद्रीय आरक्षित पुलिस बल के काफ़िले पर आतंकी हमले के बाद आईएमजी रिलायंस इस क़रार से पीछे हट गई थी. इस वज़ह से पीएसएल को नया प्रसारणकर्ता ढूंढना पड़ा. यह भी याद दिला दें कि पुलवामा आतंकी हमले की ज़िम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी. उस हमले में 42 भारतीय जवान मारे गए थे.