गुरुवार को छत्तीसगढ़ के कांकेर जिले में माओवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के चार जवान शहीद हो गए. इस मुठभेड़ में बीएसएफ के दो जवान घायल भी हुए हैं. खबरों के मुताबिक नक्सलरोधी अभियान के डीआईजी पी सुंदर राज ने कहा है, ‘गुरुवार को बल के जवानों ने जिले में तलाशी अभियान चलाया था. उसी दौरान दोपहर बारह बजे बीएसएफ के दल पर माओवादियों ने गोलियां चलाई थीं. इस मुठभेड़ में शहीद होने वाले जवान बीएसएफ की 114वीं बटालियन के हैं.’

इससे पहले बीते महीने की 26 तारीख को राज्य के सुकमा जिले में हुई एक मुठभेड़ के दौरान बीएसएफ के जवानों ने चार माओवादियों को मार गिराया था. उस कार्रवाई को केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की कोबरा बटालियन और प्रदेश पुलिस के जवानों ने मिलकर अंजाम दिया था.

माओवादियों ने लोकसभा के इस चुनाव के बहिष्कार की धमकी दी है. ऐसे में सुरक्षा बलों ने छत्तीसगढ़ में उनके खिलाफ अपने अभियान तेज कर दिए हैं. छत्तीसगढ़ की सभी 11 संसदीय सीटों पर चुनावी प्रकिया के पहले तीन चरणों में मतदान होना है. मतदान प्रक्रिया की शुरुआत आगामी 11 तारीख से हो रही है. इसके बाद राज्य में 18 और फिर 23 अप्रैल को भी वोट डाले जाएंगे.