कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कहा है कि राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह और नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार को अपने पदों पर बने रहने का कोई अधिकार नहीं है. उनका यह भी कहना है कि चुनाव आयोग की तरफ से इन दोनों पर आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन के आरोप लगाए जाने के बाद उन्हें अपने पदों से इस्तीफा दे देना चाहिए. पी चिदंबरम ने ये बातें एक ट्वीट के जरिये कही हैं.

इससे पहले बीते महीने उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में कल्याण सिंह ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा था कि हम सभी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता हैं. इसलिए हम चाहेंगे कि लोकसभा के इस चुनाव में भाजपा की जीत हो. साथ ही नरेंद्र मोदी एक बार फिर प्रधानमंत्री बनें. तब उन्होंने इस आम चुनाव में मोदी का समर्थन करने की बात भी कही थी. इस संबंध में चुनाव आयोग ने इस हफ्ते राष्ट्रपति के पास एक रिपोर्ट भेजी थी जिसे उन्होंने कार्रवाई के लिए गृह मंत्रालय के पास बढ़ा दिया था.

इधर, राजीव कुमार ने कांग्रेस की न्यूनतम गारंटी न्याय योजना (न्याय) को अर्थव्यवस्था के लिए नुकसानदायक बताते हुए उसकी आलोचना की थी. उनके उस बयान पर चुनाव आयोग ने उनसे जवाब मांगा था. राजीव कुमार के जवाब पर इसी शुक्रवार को आयोग ने ‘नाखुशी’ जाहिर की थी. साथ ही अपने बयानों को लेकर उन्हें ‘सतर्कता’ बरतने की नसीहत भी दी थी.