अमेरिकन ऑटोमोबाइल कंपनी जीप ने भारत में अपनी लोकप्रिय सबकॉम्पैक एसयूवी कंपस का नया वेरिएंट ‘स्पोर्ट प्लस’ लॉन्च कर दिया है. जीप ने कंपस स्पोर्ट्स प्लस को कार के बेस ट्रिम ‘स्पोर्ट’ और कंपस ‘लॉन्गिट्यूड’ के मिड लाइनअप के तौर पर बाज़ार में उतारा है. अब तक बाज़ार में कंपस के- स्पोर्ट, लॉन्गिट्यूड, लिमिटेड और लिमिटेड प्लस वेरिएंट उपलब्ध थे.

स्पोर्टस प्लस को कई खास फीचर्स से नवाज़ कर जीप ने कंपस को पहले से ज्यादा प्रीमियम बनाने की कोशिश की है. कंपस स्पोर्ट्स प्लस के पेट्रोल वर्ज़न के लिए शुरुआती एक्सशोरूम कीमत 15.99 लाख रुपए और डीज़ल वर्ज़न के लिए 16.99 लाख रुपए तय की गई है जो इस कार के मौजूदा बेस वेरिएंट से क्रमश: 59 हजार और 39 हजार रुपए ज्यादा है.

जानकार जीप की इस पूरी कवायद को सेगमेंट में टाटा हैरियर की एंट्री से जोड़कर देख रहे हैं. दरअसल टाटा की इस बेहतरीन एसयूवी के मैदान में आ जाने से जिन गाड़ियों की बिक्री सबसे ज्यादा प्रभावित मानी गई; जीप कंपस उनमें से एक है. गौरतलब है कि अपने टॉप वेरिएंट की कीमत कंपस स्पोर्ट्स प्लस के बराबर होने की वजह से हैरियर उन ग्राहकों को अपनी तरफ तेजी से लुभा रही है जो इस बजट में एक बड़ी कार अपने गैरेज में खड़ी देखना चाहते हैं.

यदि कंपस स्पोर्ट्स प्लस के साथ मिलने वाली चार प्रमुख खूबियों की बात करें तो यहां आपको पहले वाले 16-इंच के स्टील व्हील्स की जगह इसी आकार के लेकिन खूबसूरत अलॉय व्हील्स नज़र आते हैं. इनके अलावा कार के मैनुअल एसी की जगह दिया गया डुअल ज़ोन क्लाइमेट कंट्रोल, रियर पार्किंग सेंसर और ब्लैक रूफ रेल्स जैसी विशेषताएं इस वेरिएंट के नए होने की गवाही जमकर देती हैं.

इनके अलावा आपको कंपस स्पोर्ट्स प्लस में लगे इलेक्ट्रिकली एडजस्टेबल आउटसाइड रियर-व्यू मिरर्स, डे-टाइम रनिंग लैंप्स (नॉन एलएडी), ऑल ब्लैक इंटीरियर और फैब्रिक अपहोल्स्ट्री इसे सेगमेंट में खास बनाते हैं. हालांकि एप्पल कार प्ले और एंड्रॉइड ऑटो कनेक्टिविटी वाले टचस्क्रीन यू-कनेक्ट इंफोटेनमेंट सिस्टम की स्क्रीन का 7.0 की जगह 5.0 इंच का होना कइयों को अखर सकता है.

यदि सुरक्षा के लिहाज़ से देखें तो कंपस के इस नए वेरिएंट के साथ आपको खूब सारे टेक्निकल और सेफ्टी फीचर्स भी मिलते हैं, जिनमें- डुअल फ्रंट एयरबैग्स, इलेक्ट्रिक पार्किंग ब्रेक और इलेक्ट्रॉनिक ब्रेक डिस्ट्रिब्यूशन (ईबीडी) के साथ एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम (एबीएस), पैनिक ब्रेक असिस्ट, फोर डिस्क ब्रेक्स, आएसओएफआईएक्स चाइल्ड सीट और एंकर्स एंड अडेप्टिव ब्रेक लाइट्स शामिल हैं. इनके अलावा इस कार में हिल स्टार्ट असिस्ट, इलेक्ट्रॉनिक स्टेबिलिटी कंट्रोल (ईएससी) और ट्रैक्शन कंट्रोल सिस्टम (टीसीएस), फ्रिक्वेंसी सिलेक्टिव डैंपिंग सस्पेंशन इलैक्ट्रॉनिक रोल मिटिगेशन और डाइनेमिक स्टीअरिंग टॉर्क जैसी खूबियां भी शामिल हैं.

अब एक नज़र इस गाड़ी की परफॉर्मेंस पर डालते हैं. जीप ने कंपस स्पोर्ट्स प्लस (डीज़ल) के बोनट के नीचे 2.0 लीटर का मल्टीजेट टर्बो डीज़ल इंजन दिया है जो 171 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 350 एनएम का अधिकतम टॉर्क पैदा करने में सक्षम है. इस इंजन को 6-स्पीड मैनुअल ट्रांसमिशन बॉक्स के साथ जोड़ा गया है. कंपनी का दावा है कि यह शानदार इंजन 17.1 किलोमीटर/लीटर जैसी आकर्षक माइलेज देता है. वहीं कार के पेट्रोल वर्ज़न की बात करें तो यहां आपको 1.4 लीटर क्षमता का मल्टी एयर टर्बो पेट्रोल इंजन मिलता है जो 160 बीएचपी की अधिकतम पॉवर के साथ 250 एनएम का अधिकतम टॉर्क पैदा करने के साथ 14.1 किलोमीटर/लीटर की माइलेज देने में सक्षम है. कंपनी ने कंपस स्पोर्ट्स प्लस वेरिएंट को सिर्फ फ्रंट-व्हील ड्राइव विकल्प के साथ बाज़ार में उतारा है.

बजाज की नई डॉमिनार

बजाज ऑटो ने इस हफ़्ते डॉमिनार-400 2019 लॉन्च कर दी है. बीते करीब छह महीने से बाज़ार में डॉमिनार-400 के अपडेट होने के कयास लगाए जा रहे थे. बजाज ने नई डॉमिनार को तब लॉन्च किया है जब दमदार बाइक ‘जावा’ जल्द ही भारतीय सड़कों पर दौड़ती नज़र आने वाली है. हालांकि जो बाइक लवर्स टीवी कम देखते हैं; उन्हें डॉमिनार और जावा से जुड़ी हमारी यह तुलना थोड़ी अटपटी लग सकती है, क्योंकि डॉमिनार एक स्पोर्ट बाइक है जबकि जावा बिल्कुल अलग सेगमेंट ‘विटेंज’ से ताल्लुक रखती है. लेकिन यह जानना आपको दिलचस्प लग सकता है कि बजाज ने डॉमिनार को किसी स्पोर्ट बाइक नहीं बल्कि भारत में विटेंज बाइक्स की लीजेंड मानी जाने वाली ‘रॉयल एनफील्ड’ बाइक्स की टक्कर में बाज़ार में उतारा था. डॉमिनार के शुरुआती विज्ञापनों में यह बात स्थापित करने की भरपूर कोशिश भी की गई थी. तंजभरे इन विज्ञापनों की थीमलाइन थी, ‘हाथी मत पालो’.

डॉमिनार-400 2019 में दिए गए सबसे बड़े बदलाव की बात करें तो वह इस बाइक के इंजन में देखने को मिलता है. 373.3 सीसी के इस लिक्विड कूल्ड इंजन को अब डुअल ऑवरहैड कैमशाफ्ट (डीओएचसी) सेटअप और 12.1:1 के हाई कंप्रेशन रेशियो के साथ दिया गया है जो कि पहले 11.3:1 था. इनके अलावा इस इंजन को नए बैरल एक्ज़हॉस्ट के साथ ईसीयू रीट्यून भी किया गया है. इन टिपिकल सी टेक्निकल टर्म्स का मतलब आसान भाषा में समझें तो नई डॉमिनार का इंजन पहले से दमदार हो गया है जो 8650 आरपीएम पर 5 पीएस की अतिरिक्त पॉवर देने में सक्षम है. इस तरह यह इंजन 7000 आरपीएम पर 35 पीएस पॉवर और 35 एनएम का अधिकतम टॉर्क पैदा कर सकता है. इस दमदार इंजन की मदद से बजाज की यह नई पेशकश 0-100 किलोमीटर/घंटा की रफ़्तार पकड़ने में महज 7.1 सेकेंड का ही समय लेती है. कंपनी ने इस इंजन को 6-स्पीड ट्रांसमिशन बॉक्स से जोड़ा है.

बाइक में दी गई अन्य खूबियों की बात करें तो, इसमें आपको बिल्कुल नए अपसाइड-डाउन फोर्क्स (फ्रंट व्हील और एक्सल को फ्रेम से जोड़ने वाली डंडियांं जिनमें शॉकर लगे होते हैं), डुअल इंस्ट्रुमेंट कंसोल सेटअप के लिए रिवाइज़्ड सेटअप, नया साइड स्टैंड, रीडिजायंड रियरव्यू मिरर्स और एलुमिनियम के मिरर स्टॉक्स शामिल हैं. इनके अलावा बाइक में ऑल एलईडी हैडलाइट, बेहतर सस्पेंशन और गोल्ड पेंटेड व्हील्स की बजाय टू टोन डायमंड कट व्हील्स इसे फ्रेश फील देते हैं. बजाज ने इस डॉमिनार 400 के लिए 1,73,870 रुपए (एक्सशोरूम दिल्ली) कीमत तय की है जो इस बाइक के मौजूदा मॉडल से भले ही 10,000 रुपए ज्यादा है. लेकिन रॉयल एनफील्ड थंडरबर्ड-500 और जावा के मुकाबले थोड़ी किफ़ायती होने की वजह से ग्राहकों को लुभा सकती है.

देश की पहली इंटरनेट वाली कार

ब्रिटिश कार निर्माता कंपनी मॉरिस गैरेजेज़ (एमजी) मोटर्स ने भारत में अपनी एसयूवी ‘हेक्टर’ से पर्दा हटा दिया है. एमजी मोटर्स का दावा है कि उसकी यह पेशकश हाईस्पीड इंटरनेट (4जी और 5जी) से लैस देश की पहली कार है. जानकारी के मुताबिक हेक्टर इसी जून से भारतीय बाज़ार में बिक्री के लिए उपलब्ध हो सकती है. एमजी मोटर्स ने इस कार के बारे में जानकारी साझा करते हुए कहा है कि उसने हेक्टर को विश्वस्तरीय प्रौद्योगिकी कंपनियों- माइक्रोसॉफ्ट, अडोबी, अनलिमिट, सैप, सिस्को, गाना, टॉमटॉम और नुएंस जैसी कंपनियों के साथ के साथ मिलकर विकसित किया है. जानकारों का कहना है कि एमजी हेक्टर को टाटा हैरियर और जीप कंपस के अलावा ह्युंडई की अपकमिंग एसयूवी ‘वेन्यू’ को टक्कर देने के लिए तैयार किया गया है जो खुद एक कनेक्टेड एसयूवी होगी.

एमजी मोटर्स ने हेक्टर को एंड्रॉयड बेस्ड आईस्मार्ट नेक्स्ट जेन सिस्टम से लैस किया है जो 4जी कनेक्टिविटी (बाद में 5जी में बदली जा सकने वाली) सुविधा के साथ आता है. कुछ प्रमुख ऑटोवेबसाइट के मुताबिक हेक्टर का ड्राइवर, वर्टिकल इंटरफ़ेस के साथ डिज़ाइन किए गए आईस्मार्ट नेक्स्ट जेन से जुड़ी स्क्रीन को छूकर या उसे मौखिक आदेश देकर पूरी कार को नियंत्रित कर सकता है. कार को नेटवर्क से जोड़े रखने के लिए एक एम2एम सिम फिक्स की गई है जिसके लिए सिस्को और एयरटेल से क़रार किया गया है.

यह जीएसएम कनेक्शन इस कार को कई सारे फीचर्स जैसे- इमरजेंसी कॉल्स, व्हीकल स्टेटस, रिमोट कंट्रोल फोर सनरूफ, टेलगेट और डोरलॉक को कंट्रोल करता है. यह सिस्टम सॉफ्टवेयर और फीचर्स से जुड़ी नई थीम, एप्लीकेशन्स और एंटरटेनमेंट को अपडेट कर पाने में भी सक्षम है. साथ ही 10.4 इंच के इस सिस्टम को 24/7 पल्स हब तकनीक लैस किया गया है. लोकल सर्विस के साथ जुड़ा यह पल्स हब दुर्घटना या इमरजेंसी के वक़्त संबंधित व्यक्तियों को ई-कॉल और टेक्स्ट के ज़रिए कार की लोकेशन से जुड़ी सूचना देने का काम करता है. कार के मालिक द्वारा उपलब्ध करवाए आपातकालीन नंबरों से कोई जवाब न आने की स्थिति में यह सिस्टम कंपनी की हैड यूनिट को फोन कर दुर्घटना के बारे में सूचित करता है. कयास हैं कि एमजी मोटर्स की इस हाईटेक कार को घर लाने के लिए आपको 17 से 20 लाख रुपए तक की कीमत चुकानी पड़ सकती है.