अमेरिका की सरकार ने पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान पर आई मीडिया रिपोर्ट को खारिज कर दिया है. अमेरिका के रक्षा विभाग ‘पेंटागन’ के प्रवक्ता ने हिन्दुस्तान टाइम्स को बताया कि पाकिस्तान के एफ-16 लड़ाकू विमान की जांच के संबंध में ‘फॉरेन पालिसी’ पत्रिका ने जो कुछ बताया है, उन्हें उसके बारे में जानकारी नहीं है. प्रवक्ता ने कहा, ‘पत्रिका ने एक अनाम अधिकारी के हवाले से बताया है कि अमेरिकी अधिकारियों ने पाकिस्तान जाकर एफ-16 लड़ाकू विमानों की जांच की थी, लेकिन हमारे विभाग के पास ऐसी कोई जानकारी नहीं है.’

हिन्दुस्तान टाइम्स ने जब पेंटागन के प्रवक्ता से इस बारे में सीधा जवाब देने का आग्रह किया तो उनका कहना था, ‘यह विदेश नीति से जुड़ा मामला है इसलिए दो सरकारों के बीच हुए किसी समझौते या अमेरिका में तैयार हुए किसी हथियार के मेंटिनेंस के संबंध में वह कोई सार्वजनिक टिप्पणी नहीं कर सकते.’ उन्होंने यह भी कहा कि इस संबंध में यह ध्यान रखना भी जरूरी है कि जनवरी, 2018 से अमेरिका ने पाकिस्तान को सुरक्षा सहायता बंद कर दी है.

बीते शुक्रवार को अमेरिका की प्रतिष्ठित पत्रिका ‘फॉरेन पॉलिसी’ में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी. इसमें कहा गया था कि अमेरिकी अधिकारियों ने पाकिस्तान जाकर एफ-16 विमानों की जांच की और सभी विमान सुरक्षित पाए. हालांकि, इस रिपोर्ट में किए गए दावे को भारतीय वायुसेना ने तुरंत ख़ारिज कर दिया था. वायुसेना का कहना था कि उसने 27 फरवरी को पाकिस्तान का एफ-16 विमान मार गिराया था जिसके सबूत उसके पास हैं.