पाकिस्तान ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत के साथ संबंधों में आए तनाव को कम करने के लिए रविवार को 100 भारतीय मछुआरों को रिहा कर दिया. पाकिस्तानी अख़बार ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ के हवाले से आई खबर के मुताबिक रिहा भारतीय क़ैदियों को भारी सुरक्षा के बीच कराची छावनी रेलवे स्टेशन ले जाया गया. वहां से उन्हें लाहौर ले जाया गया.

ख़बर के मुताबिक लाहौर से भारतीय मछुआरों को वाघा सीमा पर ले जाया जा रहा है. वहां सभी को भारतीय अधिकारियों को सौंपा जाएगा. इन सभी को पाकिस्तान के जलक्षेत्र में घुसने और अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा का उल्लंघन करने की वज़ह से ग़िरफ़्तार किया गया था. बताया जाता है कि पाकिस्तान के स्वयंसेवी संगठन ईधी फाउंडेशन ने इन मछुआरों के लिए ताेहफ़ों और यात्रा का खर्च मुहैया कराया है.

गौरतलब है कि पाकिस्तान ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वह 360 भारतीय कैदियों को इस महीने चार चरणों में रिहा करेगा. इनमें से 355 मछुआरे हैं. पाकिस्तानी विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस्लामाबाद में मीडिया को बताया था, ‘हम सद्भावना के तहत भारतीय क़ैदियों को रिहा कर रहे हैं. हमें आशा है कि भारत भी इसी तरह का क़दम उठाएगा.’