चुनाव आयोग ने दिल्ली के मुख्य चुनाव अधिकारी (सीईओ) को निर्देश दिया है कि नमो टीवी पर बिना पूर्व प्रमाणन के दिखाए जा रहे सभी राजनीतिक प्रचार कार्यक्रमों को तत्काल हटाया जाए. उसने गुरुवार को कहा कि नमो टीवी पर पहले से रिकॉर्ड कार्यक्रम प्रसारित करने के लिए दिल्ली की स्थानीय मीडिया प्रमाणन समिति (एमसीएमसी) से इजाजत लेनी होगी. पीटीआई की खबर के मुताबिक चुनाव आयोग ने साफ कहा कि इस सिलसिले में उसके निर्देशानुसार एमसीएमसी किसी राजनीतिक सामग्री को मंजूरी देने में सख्ती से नियमों का पालन करेगी.

बता दें कि कांग्रेस पार्टी ने नमो टीवी को लेकर चुनाव आयोग के समक्ष एक शिकायत दायर की थी. इसके बाद आयोग ने दिल्ली के सीईओ को इस मामले में एक रिपोर्ट दायर करने को कहा था. वहीं, इससे पहले सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने चुनाव आयोग को बताया था कि नमो टीवी एक विज्ञापन मंच है जिसके लिए मंत्रालय से लाइसेंस लेने की आवश्यकता नहीं है. हालांकि एमसीएमसी ने कहा है कि नमो टीवी पर दिखाए जा रहे कार्यक्रम विज्ञापन नहीं हैं.