प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को रूस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द अपॉसल’ से सम्मानित किया जाएगा. शुक्रवार को यह जानकारी दिल्ली स्थित रूसी दूतावास ने एक बयान जारी करके दी. इस बयान में यह भी कहा गया है, ‘आपसी रणनीतिक साझेदारी बढ़ाने और रूस व भारतीय नागरिकों को करीब लाने की दिशा में काम करने के लिए नरेंद्र मोदी को इस सम्मान से सम्मानित किया जाएगा.’

ऑर्डर ऑफ सेंट एंड्रयू द अपॉसल सम्मान, रूस के सर्वोच्च और सबसे पुराने सम्मानों में से एक है. इसकी शुरुआत 17वीं सदी में जार पीटर- 1 ने की थी. हालांकि ‘सोवियत संघ’ के जमाने में इस सम्मान को बंद कर दिया गया था. 1998 से इसे एक बार फिर शुरू किया गया. इस सम्मान से अजरबैजान के राष्ट्रपति हैदर अलीयेव और कजाखस्तान के राष्ट्रपति नूरसुल्तान नजरबायेव जैसी हस्तियां सम्मानित की जा चुकी हैं.

इधर, नरेंद्र मोदी को मिलने वाला यह आठवां अंतरराष्ट्रीय सम्मान भी है. इससे पहले इसी महीने उन्हें संयुक्त अरब रात (यूएई) के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘जायद मेडल’ से सम्मानित किया गया था. वह सम्मान उन्हें दोनों देशों के द्विपक्षीय संबंधों को बढ़ावा देने के लिए दिया गया था. इसके अलावा प्रधानमंत्री मोदी को संयुक्त राष्ट्र के सर्वोच्च पर्यावरण सम्मान ‘चैम्पियंस ऑफ द अर्थ’ से भी सम्मानित किया जा चुका है.