छत्तीसगढ़ के रायगढ़ जिले में खनन माफिया ने एक सहायक क्लेक्टर की कार को जेसीबी से कुचल कर अधिकारी की हत्या करने की कोशिश की. पुलिस के मुताबिक, यह घटना सारंगढ़ के तिमरलगा खनन क्षेत्र में शुक्रवार देर रात हुई. इस मामले में केस दर्ज कर लिया गया है और आरोपियों को गिरफ्तार करने के प्रयास किए जा रहे हैं.

अतिरिक्त जिला पुलिस अधीक्षक अभिषेक वर्मा ने बताया कि अवैध डोलोमाइट खनन के बारे में सूचना मिलने पर सहायक क्लेक्टर के रूप में रायगढ़ में तैनात प्रशिक्षु आईएएस अधिकारी मयंक चतुर्वेदी, उप-निदेशक (खनन) एसएस नाग और एक खनन इंस्पेक्टर सारंगढ़ इलाके में गए थे. वर्मा के मुताबिक, तिमरलगा में जारी अवैध खनन देखने के बाद ये सभी जांच के लिए वहां रुक गए, तभी इलाके में खनन करवा रहा अमृत पटेल वहां पहुंच गया और कार्रवाई का विरोध किया. पुलिस के अनुसार, पटेल ने अपने सहयोगियों को बुला लिया और जब अधिकारी वहां से जाने वाले थे कि तभी एक जेसीबी मशीन के चालक ने चतुर्वेदी की कार को कुचलने का प्रयास किया.

पुलिस अधिकारी ने बताया कि घटना में अधिकारी बाल-बाल बच गए, लेकिन पटेल ने इसके बाद उन पर हमला कर दिया. जिसमें चतुर्वेदी को मामूली चोट आई. इसके बाद पटेल और उसके सहयोगी भाग निकले. पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत पटेल और अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया है.