लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में पूरी ताकत झोंक रही कांग्रेस अपनी महत्वाकांक्षी ‘न्यूनतम आय योजना’ (न्याय) के वादे को घर-घर तक पहुंचाने के मकसद से 15 अप्रैल (सोमवार) से राज्य में ‘न्याय यात्रा’ निकालेगी. पार्टी सूत्रों के मुताबिक ‘न्याय यात्रा’ का यह कार्यक्रम कांग्रेस महासचिव एवं पूर्वी उत्तर प्रदेश की प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा की योजना का हिस्सा है.

पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि यह यात्रा उत्तर प्रदेश के उन सभी संसदीय क्षेत्रों में निकाली जाएगी जहां अगले छह चरणों मे चुनाव हो रहे हैं. इसकी शुरुआत 15 अप्रैल को फतेहपुर सीकरी से होगी जहां से प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष राज बब्बर चुनाव लड़ रहे हैं. यात्रा की शुरुआत के मौके पर प्रियंका गांधी और उत्तर प्रदेश महासचिव-प्रभारी ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी मौजूद रह सकते हैं.

पार्टी की ओर से तय कार्यक्रम के मुताबिक हर क्षेत्र में चुनाव प्रचार खत्म होने तक यह ‘न्याय यात्रा’ चलेगी और इसमें सबंधित क्षेत्र के सभी प्रमुख नेता, कार्यकर्ता, युवा कांग्रेस, महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवा दल के लोग शामिल होंगे. इस यात्रा के तहत जमीनी स्तर पर छोटी-छोटी सभाएं की जाएंगी, पर्चे बांटे जाएंगे और जन संवाद कार्यक्रमों के आयोजन होंगे. कांग्रेस ने अपने चुनावी घोषणापत्र में वादा किया है कि सरकार बनने पर वह ‘न्याय’ के तहत देश के पांच करोड़ सबसे गरीब परिवारों को सालाना 72 हजार रुपए देगी.