‘मुलायम सिंह यादव जी आप भीष्म पितामह वाली गलती न दोहराएं.’  

— सुषमा स्वराज, विदेश मंत्री

सुषमा स्वराज ने यह बात एक ट्वीट के जरिये समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता आजम खान के एक बयान पर निशाना साधते हुए कही है. इसके साथ ही सुषमा स्वराज ने यह भी कहा, ‘मुलायम भाई - आप सपा के पितामह हैं. आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीरहरण हो रहा है. आप भीष्म की तरह मौन साधने वाली गलती मत करिये.’ इससे पहले इसी रविवार को आजम खान ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की प्रत्याशी जया प्रदा पर विवादित टिप्पणी करते हुए उनके ‘अंडरवीयर का रंग खाकी’ बताया था. इस बीच आजम खान को उस बयान के लिए चौतरफा निंदा उठानी पड़ी है.

‘चुनाव जीतने के लिए कांग्रेस राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की मदद ले रही है.’  

— ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

ममता बनर्जी ने यह बात पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के बीते साल राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के एक कार्यक्रम में शामिल होने का जिक्र किया. साथ ही उसी के मद्देनजर आरएसएस कार्यकर्ताओं द्वारा प्रणब मुखर्जी के बेटे अभिजीत मुखर्जी के लिए चुनाव प्रचार करने की बात भी कही. ममता बनर्जी ने यह भी कहा, ‘भानुमति का पिटारा खोलने के लिए मुझे बाध्य मत कीजिए, नहीं तो कांग्रेस की समूची योजना का खुलासा हो जाएगा.’ इसके साथ ही उन्होंने वोटरों से कांग्रेस, भाजपा और वाम दलों के ‘घातक गठजोड़’ को हराने की अपील भी की.


‘भाड़ में गया कानून, चुनाव आचार संहिता को भी हम देख लेंगे.’  

— संजय राउत, शिवसेना के वरिष्ठ नेता

संजय राउत ने यह बात महाराष्ट्र के मीरा-भयंदर उपनगर में एक चुनावी सभा संबोधित करते हुए कही. इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा, ‘जो बात हमारे मन में है, वो अगर मन से बाहर नहीं निकालें तो घुटन सी होती है.’ इस मौके पर संजय राउत ने खुद को कानून का पालन करने वाला बताया. साथ ही यह भी कहा, ‘चुनाव के दौरान हमारे ऊपर एक दबाव बना रहता है कि कहीं आचार संहिता का उल्लंघन न हो जाए.’


‘भाजपा चुनाव प्रचार के लिए इतने पैसे कहां से खर्च कर रही है?’  

— राहुल गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष

राहुल गांधी ने यह बात उत्तर प्रदेश के फतेहपुर सीकरी में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कही. इस मौके पर उन्होंने यह भी कहा, ‘टेलीविजन पर हर रोज प्रधानमंत्री का चेहरा दिखाई दे रहा है जबकि इस पर तीस सेकेंड के प्रचार के लिए लाखों रुपये खर्च होते हैं.’


‘वो उपचुनाव था, ये मोदी जी का चुनाव है.’  

— रवि किशन, अभिनेता

रवि किशन ने यह बात लोकसभा के इस चुनाव में उन्हें भाजपा की तरफ से उत्तर प्रदेश की गोरखपुर सीट से उम्मीदवार घोषित किए जाने के बाद दिए एक इंटरव्यू में कही. इस मौके पर उन्होंने उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा गठबंधन को ‘फ्लॉप शो’ बताते हुए भाजपा के पक्ष में चुनावी लहर होने की बात भी कही. रवि किशन का यह भी कहना था कि वे 2017 से ही भाजपा के लिए प्रचार कर रहे हैं. उसी के मद्देनजर पार्टी हाईकमान ने उन्हें चुनाव लड़वाने का फैसला किया है.