केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश की लखनऊ लोक सभा सीट से नामांकन दाख़िल कर दिया. इस सीट पर छह मई को मतदान होना है. भारतीय जनता पार्टी ने राजनाथ सिंह को लगातार दूसरी बार लखनऊ से उम्मीदवार बनाया है. उन्होंने 2014 में यह सीट जीती थी. इससे पहले 2009 में उन्होंने उत्तर प्रदेश की ही ग़ाज़ियाबाद सीट से जीत हासिल की थी.

ख़बराें के मुताबिक राजनाथ सिंह शहर के मुख्य इलाकों से रोड शो करते हुए जिला मजिस्ट्रेट के कार्यालय पहुंचे. वहां उन्होंने नामांकन दाख़िल किया. रोड शो में पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी शामिल होना था. लेकिन चूंकि जाति और धर्म आधारित बयानबाज़ी की वज़ह से चुनाव आयोग ने आदित्यनाथ पर 72 घंटे का प्रतिबंध लगाया हुआ है. इस दौरान वे किसी चुनावी कार्यक्रम, प्रचार आदि में हिस्सा नहीं ले सकते. इसलिए वे राजनाथ सिंह के रोड शो में भी शामिल नहीं हो पाए.

वैसे यहां ग़ौर करने की बात ये भी है कि इस बार अब तक राजनाथ सिंह से मुकाबले के लिए विपक्ष का उम्मीदवार ही नहीं है. नामांकन दाख़िल करने के लिए दो दिन बचे हैं. लेकिन अब तक विपक्ष राजनाथ के सामने सशक्त उम्मीदवार नहीं ढूंढ पाया है. विपक्ष की ओर से हो रही देरी की वज़ह भी है. ये कि लखनऊ सीट 1991 से लगातार भाजपा का गढ़ रही है. पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी 1991 से 2009 तक यहां से लगातार चुनाव जीतते रहे. इसके बाद राजनाथ भी जीते और अब वे फिर सामने हैं.