बांग्लादेश के लोकप्रिय अभिनेता फिरदौस अहमद द्वारा पश्चिम बंगाल में सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस के लिए प्रचार किये जाने के बाद आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरु हो गया है. भाजपा ने चुनाव आयोग में शिकायत करके आरोप लगाया है कि इससे आचार संहिता का उल्लंघन हुआ है.

सोशल मीडिया पर वायरल एक वीडियो में दिख रहा है कि बांग्लादेशी अभिनेता फिरदौस और बंगाली अभिनेता अंकुश और पायल रायगंज लोकसभा सीट से तृणमूल कांग्रेस उम्मीदवार कन्हैयालाल अग्रवाल के पक्ष में वोट मांगने के लिए रविवार को एक रोड शो में शामिल हुए. इस पर प्रदेश भाजपा उपाध्यक्ष मजूमदार ने कहा, ‘हमारा मानना है कि यह पूरी तरह से अवैध कदम है जिसे जानबूझकर उठाया गया. यह तृणमूल कांग्रेस की दिवालिया राजनीति का सबूत है,’ उन्होंने सवाल उठाया कि पर्यटन वीजा पर देश की यात्रा पर आया एक बांग्लादेशी नागरिक किसी उम्मीदवार के लिए प्रचार कैसे कर सकता है. उन्होंने आरोप लगाया कि अभिनेता को क्षेत्र में अल्पसंख्यक मतदाताओं के ध्रुवीकरण के लिए लाया गया.

वहीं, तृणमूल कांग्रेस के उम्मीदवार कन्हैया लाल अग्रवाल ने कहा कि अभिनेता द्वारा उनके लिए प्रचार किये जाने के बारे में उन्हें कोई जानकारी नहीं है. तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं राज्य के पूर्व मंत्री मदन मित्रा ने कहा, ‘मुझे नहीं पता कि अभिनेता ने रैली में हिस्सा लिया या नहीं या क्या उसे उम्मीदवार द्वारा आमंत्रित किया गया था. लेकिन मुझे नहीं लगता कि आचार संहिता का कोई उल्लंघन है.’