केंद्र सरकार ने गूगल और एपल को निर्देश दिया है कि वे अपने प्लेटफॉर्म से मोबाइल एप ‘टिकटॉक’ को हटा लें. सरकार का यह फैसला टिक-टॉक पर मद्रास हाई कोर्ट की पाबंदी वाले फैसले पर सुप्रीम कोर्ट द्वारा रोक न लगाए जाने के मद्देनजर आया है. इस पूरे घटनाक्रम की सोशल मीडिया पर भी खूब चर्चा है और यहां कुछ लोगों ने इस हवाले से सरकार की आलोचना की है. ट्विटर पर दुर्गेश दुबे का कहना है, ‘शराब पर पाबंदी, पबजी पर पाबंदी और टिकटॉक पर भी पाबंदी... ऐसा लगता है कि भारत चीन और उत्तर कोरिया जैसे देशों से प्रेरणा ले रहा है.’

हालांकि फेसबुक और ट्विटर पर एक बड़े तबके ने इस एप पर पाबंदी का जमकर स्वागत किया है. एक यूजर का कहना है, ‘इस फैसले के बाद मेरा भारतीय न्याय व्यवस्था पर दोबारा भरोसा कायम हो गया है.’ इसके साथ ही यहां टिकटॉक यूजर्स पर तंज कसते हुए एक से बढ़कर एक मजेदार मीम्स आए हैं. ऐसे ही कुछ मीम्स :

ब्रिजेश विश्वकर्मा | @apnakushinagar

टिकटॉक पर प्रतिबंध के लिए नेहरू का बहुत-बहुत आभार :

राकू | @rkstsr

इस समय टिकटॉक का हर यूजर : हे भगवान मत करो... ये सब मत करो...

संजय मिश्रा | @Mr_Introvert7

टिकटॉक पर पाबंदी की खबर सुनने के बाद इसके यूजर :

फरहान | @happy_by_name

अगर टिकटॉक पर पूरी तरह से पाबंदी लगती है तो मैं :

नॉट ए मिस्ट्री...| @youhtweets10

जब मुझे पता चला कि टिकटॉक पर पाबंदी लगने वाली है :

मुन्ना | @Munnaa09

टिकटॉक पर पाबंदी लगने के बाद मैं सुप्रीम कोर्ट से :