राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता तेजस्वी यादव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पिछड़े समुदाय को लेकर दिए एक बयान पर पलटवार किया है. एक ट्वीट के जरिये उन्होंने कहा है, ‘नरेंद्र मोदी जी नकली पिछड़े हैं. जन्म से लेकर 55 वर्ष तक वे अगड़े थे फिर एक दिन अचानक पिछड़े बन गए. सच्चा, अच्छा और असली जन्मजात पिछड़ा कभी भी झूठा, बनावटी, मिलावटी, सजावटी और दिखावटी नहीं होता.’ इसी ट्वीट में देशज बोली का इस्तेमाल करते हुए सवालिया लहजे में तेजस्वी यादव ने यह भी लिखा है, ‘पिछड़ों को बेवकूफ समझे हैं का गुजराती महोदय. क्या किए हैं पिछड़ों के लिए अगड़े महोदय.’

इसके साथ ही नरेंद्र मोदी पर तंज कसते हुए एक अन्य ट्वीट के जरिये तेजस्वी यादव ने यह भी कहा है, ‘पीएमओ (प्रधानमंत्री कार्यालय) में एक भी अधिकारी ओबीसी (पिछड़ा वर्ग) नहीं है. देश में कोई वाइस चांसलर, प्रोफेसर ओबीसी नहीं है. किसी संवैधानिक संस्था का निदेशक ओबीसी नहीं है.’ इसके साथ ही तेजस्वी यादव ने नरेंद्र मोदी से यह भी पूछा है ‘जातीय अनुपात में ओबीसी का आरक्षण क्यों नहीं बढ़ाया.’

इससे पहले इसी बुधवार को महाराष्ट्र के सोलापुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और उसके सहयोगी दलों पर निशाना साधा था. साथ ही कहा था कि कांग्रेस और उसके साथी दलों ने उन्हें कई बार गालियां दी हैं. क्योंकि वे पिछड़े वर्ग से आते हैं. प्रधानमंत्री का यह भी कहना था, ‘इस बार उन्होंने (कांग्रेस व उसके सहयोगी) मुझे गाली देते-देते पूरे पिछड़े समुदाय को चोर बता दिया है.’