अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही शुरू करने की अपील की गई है. डेमोक्रेट सीनेटर एलिजाबेथ वॉरेन ने चुनाव में रूसी हस्तक्षेप की जांच के नतीजों का हवाला देते हुए अमेरिका की प्रतिनिधि सभा से यह अपील की है. 2020 के लिए राष्ट्रपति पद के उम्मीदवारों में से एक एलिजाबेथ वॉरेन ट्रंप के खिलाफ यह अपील करने वाली पहली उम्मीदवार हैं.

पीटीआई के मुताबिक मैसाच्युसेट्स से सांसद वॉरेन ने एक ट्वीट में कहा, ‘(रॉबर्ट) मूलर की रिपोर्ट में ऐसे तथ्य दिए गए हैं कि एक शत्रु विदेशी सरकार ने डोनाल्ड ट्रंप की मदद करने के लिए हमारे 2016 के चुनाव पर हमला किया और डोनाल्ड ट्रंप ने उस मदद का स्वागत किया. निर्वाचित होने के बाद डोनाल्ड ट्रंप ने इस मामले की जांच को बाधित किया... इसका मतलब है कि संसद को अमेरिका के राष्ट्रपति के खिलाफ महाभियोग की कार्यवाही शुरू करनी चाहिए.’

एलिजाबेथ ने विशेष अधिवक्ता रॉबर्ट मूलर की 22 महीनों की जांच के नतीजों की संशोधित रिपोर्ट जारी होने के एक दिन बाद यह अपील की है. 400 पृष्ठों से अधिक के दस्तावेज में कहा गया है कि ट्रंप के चुनाव प्रचार अभियान की रूस की हस्तक्षेप की कोशिशों के साथ मिलीभगत नहीं थी लेकिन, उसने पाया कि राष्ट्रपति रूस के हथकंडों से फायदा पाकर खुश थे और उन्होंने लगातार मूलर की जांच को बाधित करने की कोशिश की.