महिलाएं पर आपत्तिजनक टिप्पणी के मामले में भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या और सलामी बल्लेबाज केएल राहुल पर 20-20 लाख रु का जुर्माना लगाया है. इन दोनों खिलाड़ियों ने यह टिप्पणी चर्चित टीवी शो कॉफी विद करन के दौरान की थी. उन पर यह जुर्माना बीसीसीआई के लोकपाल डीके जैन ने लगाया है.

हार्दिक पांड्या और केएल राहुल को निर्देश दिया गया है कि वे ‘भारत के वीर ऐप’ के जरिये देश के लिए शहादत देने वाले अर्ध-सैनिक बलों के 10 जवानों की जरूरतमंद विधवाओं को एक-एक लाख रुपये का भुगतान करें. लोकपाल ने इन दोनों को ब्लाइंड क्रिकेट के प्रमोशन के लिए बनाए गए फंड में भी 10-10 लाख रुपये जमा करने का आदेश दिया है. यदि दोनों खिलाड़ी आदेश जारी होने के चार हफ्ते के भीतर ऐसा करने में विफल रहते हैं तो बीसीसीआई दोनों खिलाड़ियों की मैच फीस में से यह राशि काट सकता है. लोकपाल ने कहा कि क्रिकेटर देश में रोल मॉडल हैं इसलिए उनका व्यवहार उन्हें मिले दर्जे के अनुरूप आदर्श होना चाहिए.

कॉफी विद करन का यह विवादित एपिसोड जनवरी के पहले हफ्ते में प्रसारित हुआ था. इसके बाद बीसीसीआई के प्रशासकों की समिति (सीओए) ने ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच से ही हार्दिक पांड्या और केएल राहुल को वापस बुला लिया था. उन्हें अस्थाई तौर पर निलंबित भी कर दिया गया था. दोनों खिलाड़ियों ने बिना शर्त माफी मांगी थी जिसके बाद जांच लंबित रहने तक अस्थाई तौर पर उन पर लगा प्रतिबंध हटा दिया गया था.